Visitors have accessed this post 152 times.

यूपी के कानपुर देहात से एक सनसनी खेज मामला सामने आया है। यहां एक युवक और उसकी पत्नी ने मिलकर अपनी मां की हत्या कर दी और शव को घर में ही दफना दिया। वजह जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे।

जमीन-जायदाद हथियाने के लिए कुछ लोग किसी भी हद तक जा सकते हैं। मामला कुछ ऐसा ही है। सिकंदरा में युवक और उसकी पत्नी ने मिलकर सौतेली मां को इसलिए मार डाला कि वह कहीं अपनी सगी बेटी को मकान की रजिस्ट्री न कर दे। मां को मारने के बाद शव को घर के भीतर ही दफना दिया। घटना का राज तब खुला जब बेटी ने बात करने के लिए मां को फोन मिलाया पर बात नहीं हुई तो वह मायके पहुंच गयी।

सिकंदरा के मालवीयनगर में वाले पतरोल पाल की पहली पत्नी फूल कुमारी का देहांत काफी समय पहले हो गया था। पहली पत्नी से एक बेटा मान सिंह है जिसकी शादी हो चुकी है। आठ साल पहले पतरोल ने सरोज के साथ दूसरी शादी की। सरोज की भी यह दूसरी शादी थी, उसकी बेटी सुधा पहले पति की संतान है। पतरोल के पास आने के बाद गांव खानपुर डिलवल में सुधा की शादी की। जिस मकान में पतरोल रहता है, वह सरोज के नाम है। बेटे मान सिंह व बहू सीमा की इस मकान पर निगाह थी, उन्हें आशंका थी कि सरोज मकान अपनी बेटी सुधा को देगी। लोगों की मानें तो एक हफ्ते पहले मान सिंह ने सरोज की हत्या कर दी और शव को कमरे के बाहर ही दफना दिया। इस बीच सुधा ने बात करने के लिए मां को फोन किए। कई बार कोशिश करने के बाद भी बात नहीं हुई तो वह मायके आ गई। घर पर मां के नहीं मिली, घर के अंदर दुर्गंध आने पर उसे शंका हुई तो पुलिस को सूचित किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मिट्टी हटाकर शव निकलवाया। शव निकलने से पहले ही पतरोल और उसकी बहू सीमा भाग निकले जबकि बेटे मान सिंह को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।