Visitors have accessed this post 121 times.

यूपी के बुलंदशहर में ककोड़ थाना क्षेत्र के कोंदू गांव में जयमाला के समय दुल्हन ने दूल्हे की चप्पल से पिटाई कर दी। इतना ही नहीं, उसने अपना साज-शृंगार उतारकर फेंक दिया। बाद में दूल्हे और उसके पिता को पुलिस के हवाले कर दिया गया। दुल्हन ने पुलिस को बताया कि चढ़त के बाद जयमाला से थोड़ी देर पहले दूल्हे के मोबाइल पर आए वॉट्सऐप मेसेज से पता चला कि वह शादीशुदा है। जब दुल्हन ने अपने परिजनों को दूल्हे की कारस्तानी रके बारे में बताया तो सभी आगबबूला हो गए। पूरा गांव इकट्ठा हुआ और बारात को बंधक बना लिया। पुलिस ने बरातियों को छुड़ाया।

छुपाई शादी की बात
ककोड़ के गांव कोंदू में गोठनी गांव से बारात आई थी। सब कुछ हंसी-खुशी चल रहा था। चढ़त के दौरान दोनों पक्ष डांस कर रहे थे। जब दूल्हा जयमाला के लिए दरवाजे पर पहुंचा तो दुल्हन की एक सहेली ने उसका मोबाइल देखा। मोबाइल पर आए एक मेसेज से पता चला कि दूल्हा नोएडा के एक मॉल में काम करता है। उसने 3 महीने पहले मॉल में ही काम करने वाली एक युवती से कोर्ट मैरेज की थी।

बारातियों से छीनी प्लेट 
सहेली ने पूरा मेसेज दुल्हन को पढ़ाया। इस पर वह आगबबूला हो गई। जैसे ही वह जयमाला के लिए दूल्हे के सामने पहुंची उसने चप्पल निकालकर उसकी धुनाई शुरू कर दी। काफी देर बाद दुल्हन के परिजनों को माजरा समझ में आया। जो बराती खाना खा रहे थे, उनके हाथों से प्लेट छीन ली गई और उन्हें पंडाल में ही बंधक बना लिया गया। दुल्हन ने किया हुआ शृंगार हटा दिया। उसने दीवार में हाथ मारकर पहनी हुईं चूड़ियां तोड़ दीं और पुलिस को फोन कर दिया।

पुलिस ने बारात को मुक्त कराया
मौके पर पहुंची पुलिस ने बंधक बारात को मुक्त कराया। साथ ही दूल्हे और उसके पिता को हिरासत में लेकर थाने पहुंच गई। लड़की के पिता ने दूल्हे और उसके पिता के खिलाफ तहरीर दे दी है। खबर लिखे जाने तक आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था।

कैसे हुई श्रीदेवी की मौत