Visitors have accessed this post 520 times.

आज से पूरे भारतवर्ष और पूरे विश्व में रहने वाले लोगों के लिए नवदुर्गा का पर्व प्रारंभ हो गया लोग मां दुर्गा को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं 9 दिन भी व्रत रहते हैं और पहले और आठवें दिन भी दत्त रहते हैं हमसे बात करते हुए ज्योतिष आचार्य जी ने बताया कि मां दुर्गा यह नहीं कहती हैं कि आप दुखी होकर हमारी पूजा करें आप व्रत ही रहे हैं आपकी सच्ची सेवा ही मेरी पूजा जनित की सेवा ही पूजा है आप इस भागदौड़ भरी जिंदगी में भी मां दुर्गा के एक साधारण से मंत्र का जाप कर कर भी उन्हें खुश कर सकते हैं क्योंकि आज के समय में हर व्यक्ति अपने अपने कामों में व्यस्त हैं अगर बात की जाए दुर्गा के नक्षत्रों की इस बार राजनीति मैं ज्यादा उथल-पुथल नहीं होगी सब पहले की तरह ही समान रहने वाला है इस बार की नवदुर्गा पूरे 9 दिन की है जो बहुत ही पावन दायिनी हैं जो अपने भक्तों को तरह-तरह के वरदान प्राप्त करेंगे मां दुर्गा को भक्तों की सच्ची भक्ति ही पसंद है मां दुर्गा को लाल रंग के वस्त्र लाल रंग के फूल अत्यधिक पसंद है मां को ही अर्पण करके मां को खुश किया जा सकता है मां का नाम सच्चे मन से लेने से ही खुश हो जाती है और उनकी पूर्ण पूजा संपन्न हो जाती है जरूरी नहीं है कि उन्हें 56 तरीके के भोग लगाकर खुश किया जाए कि पूरे 9 दिन तक वृत्त ही रह जाए क्योंकि वह खुद जीवनदायिनी है वह खुद अपने भक्तों को फल देती हैं हम और आप मिलकर में को क्या दे सकते हैं |

यह भी पढ़े : मनुष्य के पाप कर्मों द्वारा मिलने वाली सजाएं

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp