Visitors have accessed this post 201 times.

अतरौली क्षेत्र मे ये वह किसान है जिनकी सम्मान निधि की जानकारी करने पर या तो उनके आधार कार्ड नंबर गलत है या फिर खाता संख्या गलत है, या रजिट्रेशन रिजेक्ट बतात है, इस संसोधन के लिए किसान भाई कृषि विभाग कार्यालय अतरौली के चक्कर लगा रहे है, जब किसान कृषि विभाग कार्यालय अतरौली मे जाता है तो वह किसान के दस्तावेज़ देखकर किसान को एक आवेदन संख्या दे देते है और कहते है जाओ इंतजार करो तुम्हारे पैसे आ जायेंगे यह सिलसिला जनवरी माह 2020 से चल रहा है जब किसान अपने आधार कार्ड के संसोधन की बात करता है तो वह कहते है हमे नहीं पता कि यह कहा से सही होगा, इसकी जानकारी कृषि विभाग अलीगढ़ मे करो वही बताएँगे, जब किसान अलीगढ़ जाता है तो वह वहाँ से भी उसे वापस कर दिया जाता है कि अतरौली जाओ वही से सही होगा, आखिर किसान थक कर बैठ जाता है फिर सोचता है अब कहाँ जाऊ किसके पास जाऊ मेरे सम्मान निधि के रुपए कैसे आयेंगे, जब कि सरकार ने नए आवेदन के लिए साइड खोल रखी है जब किसान भाईप्राइवेट सेंटर पर अपना नया आवेदन करा लेता है तो वह कुछ दिन बाद ही निरस्त हो जाता है, और प्राइवेट सेंटरो पर संसोधन की कोई साइड नहीं खोल रखी है जिससे किसान अपने आवेदन मे संसोधन करा ले जब सरकार को सम्मान निधि देनी ही है तो किसान भाई को इतने चक्कर क्यो , क्या किसान लिमिट से ज्यादा हो जाएंगे जिन किसानो की सम्मान निधि नहीं आ रही है उसका जिम्मेदार कौन है क्या यह बात अलीगढ़ जिलाधिकारी महोदय जी के संज्ञान मे नहीं है, अगर है तो इसका समाधान क्यो नहीं अतरौली का किसान भाई कभी तहसील के चक्कर लगा रहा है तो कभी बीज गोदाम के कोई कहता है कि आपका समाधान अतरौली कृषि विभाग मे होगा तो कोई कहता है कि जहां से आप बीज लेते हो वही से होगा किसान भाइयो का जिलाधिकारी महोदय अलीगढ़ से विनम्र निवेदन है कि हमारी समस्या का समाधान कराया जाए  समाज सेवी मदनपाल सिंह लोधी किसान हितेशी |

INPUT – Madanpal