Visitors have accessed this post 141 times.

पूरी खबर के लिए क्लिक करें

देशभर में जहां कोरोना महामारी के कारण अर्थव्यवस्था डांवाडोल हो रही है ऐसे में देश की अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए तथा आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की मदद के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा की है जिससे देश के प्रत्येक वर्ग को राहत प्रदान की जा सके लेकिन इस पैकेज में देशभर के लोक कलाकार और पंडा पुजारी समुदाय के लिए कोई भी राहत प्रदान करने वाली घोषणा नहीं की गई है इसी को लेकर विश्व प्रसिद्ध धार्मिक नगरी गोवर्धन के अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त तथा राष्ट्रपति राज्यपाल आदि से सम्मानित लोक कलाकार और मुकुट मुखारविंद मंदिर के सेवायत पंडित मुरारी लाल तिवारी ने केंद्र सरकार से मांग की है कि देश के लोक कलाकार लॉक डाउन के कारण आर्थिक मंदी की चपेट में है जिनके कार्यक्रम बंद पड़े हैं और आगे भी कई महीनों तक उनको राहत की उम्मीद नहीं है साथ ही गोवर्धन के और ब्रज के पंडा पुजारियों की हालत भी दयनीय है जिनको आर्थिक सहायता की सख्त आवश्यकता है इसलिए प्रधानमंत्री मोदी को राहत पैकेज में लोक कलाकारों और पंडा पुजारियों को भी शामिल करना चाहिए जिससे देश के सभी वर्गों को इस पैकेज में समानता मिल सके ।