Visitors have accessed this post 144 times.

पूरी खबर के लिए क्लिक करें

एक और केंद्र सरकार द्वारा जहां मंडी शुल्क एवं लाइसेंस समाप्त कर मंडी समिति के व्यापारियों के लिए राहत प्रदान की है वही प्रदेश सरकार द्वारा मंडी समिति के अंदर व्यापार करने पर 1.5% मंडी समिति शुल्क एवं 50 पैसे विकास शुल्क लगाया गया है जबकि मंडी समिति के बाहर व्यापारियों पर कोई भी टैक्स लागू नहीं होगा ऐसे में मंडी समिति के अंदर काम करने वाले व्यापारी वर्ग के लिए व्यापार में दिक्कतें पैदा हो रही है जिसके चलते आज गोवर्धन के मंडी समिति में मंडी समिति गोवर्धन द्वारा तथा उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल की तहसील इकाई के अध्यक्ष गणेश पहलवान और मंडी समिति के अध्यक्ष पूरन प्रधान द्वारा मंडी समिति के कार्यालय भवन पर मंडी समिति स्पेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम ज्ञापन देकर एवं सांकेतिक धरना देकर अपना विरोध जताया व्यापारियों का कहना है कि मंडी समिति के अंदर कार्य करने वाले व्यापारी पूरा टैक्स भी भरते हैं बावजूद इसके जब बाहरी व्यापारियों पर कोई टैक्स नहीं लगेगा तो किसान अपना माल मंडी के अंदर बेचने क्यों आएगा ऐसे में मंडी समिति के अंदर कार्य करने वाले व्यवसाय वर्ग के साथ में प्रदेश सरकार की इस नीति ने कुठाराघात किया है जिसका वह विरोध करते हैं और मांग करते हैं कि प्रदेश सरकार जल्द व्यापारियों के हित में फैसला लेते हुए इस मंडी शुल्क एवं विकास शुल्क को समाप्त करें और मंडी समिति के अंदर कार्य करने वाले व्यापारी वर्ग को राहत प्रदान करें। इस मौके पर गौरव कौशिक ठाकुर फतेह सिंह उपेंद्र मिश्रा सचिन अग्रवाल भगत सिंह महेश अग्रवाल प्रदीप गर्ग संजय खंडेलवाल अनुज बंसल महेश सैनी महेश चंद्र चौधरी बांके बिहारी खंडेलवाल गोपाल प्रसाद अग्रवाल अच्छेलाल मोनू पांडे दशरथ शर्मा गौरव शर्मा आदि उपस्थित रहे।