Visitors have accessed this post 195 times.

अलीगढ़ : हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन के अध्यक्ष और हिन्दूवादी छात्र नेता कपिल चौधरी ने कहा कि अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में छात्रा को जिस तरीके से हिजाब पहनने की धमकी दी गई है हिंदू समाज में बेहद रोष है। इस विषय पर चर्चा करने से पहले हमें हिजाब शब्द के अर्थ को समझना होगा।
हिजाब एक अरबी शब्द है। जो काफी विवादित विषय है।
इसकी उत्पत्ति संबंधित वास्तविकताओं की जांच आवश्यक है जैसा कि मैं ऊपर कह चुका हूं इस शब्द का अर्थ है पर्दा।
छात्र नेता कपिल चौधरी ने बताया एक आवरण जिससे किसी हिस्से को अलग किया जा सके। वर्तमान में महिलाओं द्वारा पहने जाने वाले वस्त्र में प्रचलित है।जिसे हम हिजाब कहते हैं।
हिजाब का अर्थ काफी गहन है, स्त्रियों तक ही सीमित नहीं है। सही अर्थ आवरण को हटाकर सत्य को जानना।
सत्य के ऊपर का पर्दा है जिसमें सत्य ढका होता है। आध्यात्मिक सुरक्षा कवच है।
स्त्रियों का एक वस्त्र है। कपिल चौधरी ने कहा
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की इस छात्रा को दी गई धमकी को कोई भी स्वीकार नहीं करेगा। यह एक गैर कानूनी धमकी है। जिस पर कड़ी कार्रवाई होना आवश्यक है। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में ऐसी घटनाएं समय-समय पर होती रहती है।
इस छात्रा की गलती यह थी उसने नागरिकता संशोधन अधिनियम का उसने समर्थन किया था। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली एक छात्रा काफी डरी हुई है। पीतल का हिजाब पहनाने की धमकी देने वाले कान खोल कर सुन ले अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय हिंदुस्तान में है पाकिस्तान में नहीं।हमारे यहां सभी धर्मों के आदर की व्यवस्था है हम सभी धर्मों का आदर करते हैं अगर कोई हमारे धर्म पर प्रहार करेगा तो उचित नहीं होगा। हम किसी को छड़ते नहीं है और कोई हमें छेड़े तो छोड़ते नहीं है।हम कभी धमकी भरी भाषा का प्रयोग करने में विश्वास नहीं रखते। पर जब पानी नाक के ऊपर आ जाए तो चुप बैठना भी कायरता है।ऐसा हमें हमारे इतिहास में भी समय-समय पर बताया है।यही भगवा की पहचान है। इस प्रकरण की अलीगढ़ जनपद के एसएसपी जी से आशा की जाती है कि इस प्रकरण पर कोताही नहीं बरती जानी चाहिए ऐसे छात्र को तुरन्त एएमयू से निलंबित कर देना चाहिए और ऐसे दोषी छात्र के विरुद्ध कड़ी कड़ी सजा होनी चाहिए इनका स्थान विश्वविद्यालय परिसर में नही जेव में होना चाहिये |