Visitors have accessed this post 93 times.

हापुड़ : तीर्थनगरी बृजघाट पर गंगा दशहरा पर लगभग लाखो लोगो ने स्नान कर पुण्य का लाभ लिया।जब कि गंगा दशहरा 22 जून का है लेकिन अब कि बार दो जेष्ठ माह होने की बजह से गंगा दशहरा 24 मई का भी प्रशासन ने मानकर गंगा दशहरा के लिए पूर्ण तैयारी की और काफी संख्या मे श्रद्वालुओ के गंगा स्नान आने अनुमान के कारण गंगा घाट पर लगने वाले पुश्तैनी घाटो को भी जबरदस्ती हटवा दिया ।घाट वालो ने अधिकारियो से कहा भी कि हम यही गंगा किनारे बैठक कर पिछले पचास सालो से गंगा दशहरा, कार्तिक मेला करते आ रहे है और नगरपालिका गंगा किनारे से 40 – 50 फुट की दूरी नापकर निशान लगा देती है और मेला सकुशल सम्पन्न हो जाता है लेकिन अबकी बार पुलिस प्रशासन ने गंगा किनारे से सभी घाट वालो को जबरदस्ती हटा दिया घाट वालो ने उसका विरोध किया और घाट,व दुकाने बंद करने का फैसला लिया बंद की खबर सुनकर सी.ओ.संतोष कुमार मिश्रा ने सभी घाट वालो को बुलाकर ऊपर बने नये प्लेट फार्म पर एक तख्त पर चंदन घाट लगाने को कहा पुलिस ने यह भी दावा किया था कि गंगा स्नान पर तीर्थनगरी मे कोई वाहन अंदर नही जाने दिया जायेगा के दावे के बाद भी गंगा किनारे काफी संख्या मे बाहन पहुँचे इससे प्रशासन का दावा भी खोखला नजर आया,और गंगा का किनारा सारा खाली होने के कारण ऊठाईगीरो की चाँदी रही । दिल्ली रोहिणी से सुखवीर, फरीदाबाद से परिजनो के साथ गंगा स्नान करने आये सतीश ,पत्नी प्रीति, मेरठ से आये ज्ञानेंद्र, अमरोहा से आये बीरपाल,गाजियाबाद से निर्मला, बबीता, सीमा,कृष्णा, ने बताया कि हम पिछले दस बारह सालो से आ रहे है और हमे यहाँ बैठने के लिए तख्त व छाँव आदि की सुविधा मिल जाती थी लेकिन अबकी बार गंगा के किनारे पुलिस द्वारा घाट न लगने देने के कारण ऐसी भीषण गर्मी मे छोटे बच्चो का तो बुरा हाल और आरती स्थल से लेकर शमशान घाट तक कही भी प्रशासन ने छाँव की कोई व्यवस्था नही की।इस बार गंगा किनारे ऐसी गर्मी मे श्रद्वालुओ को काफी परेशानी झेलनी पडी।पुलिस प्रशासन ने दावा किया था कि गंगा के किनारे,बाजार ,व बृजघाट मे कोई भी गाडी अंदर नही जायेगी सभी बाहन हाईवे के पास बनी पार्किंग मे ही जायेगे के बाद भी बाहन प्लेट फार्म के साथ नीचे माँ गंगा किनारे पर भारी संख्या मे बाहन पहुँचे जिससे गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओ को स्नान करने मे भारी रूप से परेशानी हुई दो पहिया बाहन वालो की तो भरमार रही गंगा किनारे व प्लेट फार्म पर निकलने के लिए श्रद्धालुओ को रास्ता नही मिला श्रद्वालुओ की सुरक्षा हेतु कोई भी व्यवस्था नही थी गंगा किनारे स्नान करने वालो की सुरक्षा हेतु मचान बनाया जिस पर पुलिस का सिपाही बैठकर स्नान करने वालो पर निगाह रख सके लेकिन बाहरी पुलिस जो मेले डयूटी मे आई थी का तो दूर दूर तक नजर न आना अपने आप मे आशचर्य है और मचान पूरी रात खाली ही पडा रहा । कई जगहो से कई बाईक चोरी हुई लोगो का कहना है कि अगर घाट वालो के गंगा किनारे घाट लगे होते तो श्रद्वालुओ को बैठने को जगह छाँव भी मिलती और श्रद्वालुओ को भी स्नान करने कैसी भी दिक्कतें नही आती दोपर को 2 बजे हापुड़ के नमामि गंगे के जिला संयोजक प्रदीप भाटी सपरिवार गंगा स्नान करने पहुँचे तो गंगा किनारे को खाली देखकर चौंके और कहा अबकी बार प्रशासन ने गंगा किनारे गलत खाली कराया इससे उन लोगो को ज्यादा परेशानी हो रही जिनका परिवार माँ गंगा के आर्शीवाद से चल रहा है प्रदीप भाटी ने गंगा स्नान करने आये सभी श्रद्वालुओ से अपील की वो माँ गंगा मे साबुन,शैम्पू,कपडे कुडाकरकट,आदि न डाले सभी लोग माँ गंगा को स्वच्छ, निर्मल, अविरल, व प्रदूषण मुक्त करने मे अपना सहयोग दे

रिपोर्ट : प्रमोद शर्मा 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here