Visitors have accessed this post 98 times.

अलीगढ़ : गाजियाबाद के मुरादनगर में स्थित एक शमशान घाट का लेंटर गिरने से हुई 25 मौंतों पर पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने की मांग के साथ साथ मृतकों के लिए 1-1 करोड़ रूपये व घायलों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने की मांग की गई।जिला अध्यक्ष परवेज अली खान ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि जब से उत्तर प्रदेश में भाजपा की योगी सरकार बनी है तब से महँगाई और भ्रष्टाचार अपने चरम पर है, अपराधियों का बोलबाला है और पुलिस अपराधियों की सुरक्षा में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में गाजियाबाद के मुरादनगर में एक शमशान में बरामदे के निर्माण में ठेकेदार व अधिकारियों ने मिलीभगत कर उच्च स्तर का घोटाला किया जिसके परिणामस्वरूप बरामदे के लेंटर में घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग किया गया, एक दाह संस्कार के दौरान वह लेंटर गिर गया और उसके नीचे खड़े लोगों में से 25 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई और लगभग 15 लोग घायल हो गए। आम आदमी पार्टी का मानना है कि यह हादसा नहीं बल्कि हत्या है जिसके लिए सभी संबंधित अधिकारी व ठेकेदार जिम्मेदार हैं तथा उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि दुनिया मे हमेशा मृतक शरीर को घर से शमशान भूमि ले जाया जाता है जबकि मुरादनगर में मृतको को शमशान भूमि से घर ले जाया गया और ऐसा सिर्फ भाजपा शासन में ही संभव है, वहां कभी ताबूत में कमीशनखोरी होती है तो कभी शमशान में।
आम आदमी पार्टी ने मांग करते हुए कहा कि इस पूरे मामले की जांच हाईकोर्ट के जज की निगरानी में सीबीआई से कराई जानी चाहिए, दोषियों को फांसी दी जाये, मृतकों के परिजन को एक एक करोड़ रुपये व घायलों को दस दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाये।

इनपुट :- महूमद सहनवाज

यह भी पढ़े ; खाते सीज मामले में नगर निगम आया बैकफुट पर एएमयू को हाईकोर्ट से बड़ी राहत

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp