अलीगढ़ के क्वार्सी थाना
साइबर थाना पुलिस ने ठगी के एक मामले का खुलासा किया

Visitors have accessed this post 20 times.

अलीगढ़ के क्वार्सी थाना क्षेत्र के सुरेंद्र नगर निवासी एनसीसी कैप्टन वीना सागर ने छह नवंबर 2020 को मुकदमा दर्ज कराया था। कहा था कि उन्हें एक काल आया। क्रेडिट कार्ड बंद होने की बात कहकर उनसे ओटीपी ले लिया गया। कुछ ही देर में क्रेडिट कार्ड से एक लाख 10 हजार रुपये ट्रांसफर हो गए। इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि जांच में मेरठ के थाना कंकरखेड़ा के जानकी विहार निवासी योगेश कुमार उर्फ विदित का नाम सामने आया। तीन फरवरी को एसआइ मनोज कुमार, महेश कुमार, अतुल, लक्ष्मीनारायण, विवेक, धीरज, अजीत व अमर की टीम ने योगेश को मेरठ से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित को जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि ठगी के रुपये बैंक खाते से दो अलग-अलग आनलाइन वालेट में ट्रांसफर किए गए थे। पुलिस ने एक खाते को ट्रेस करके 26 हजार 487 रुपये वापस भी करा दिए। अन्य खातों को ट्रेस किया जा रहा है। योगेश जिम ट्रेन के साथ मुंबई में माडलिंग करता है। उसका भाई बाउंसर है। एक दोस्त राहुल निवासी सिवान (बिहार) के साथ गाजियाबाद में पार्टनरशिर में जिम भी चलाता है। तीनों मिलकर ठगी करते थे। इनके एक खाते से लाकडाउन के दौरान जुलाई 2020 से नवंबर तक ही करीब 18 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ है। राहुल के महंगे शौक है। उसके पास फाच्र्यूनर, पजेरो, ईको स्पोट्र्स, थार जैसी कई लग्जरी कारें हैं। वहीं अलीगढ़ की साइबर सेल के द्वारा पूरे मामले का खुलासा किया गया,पूरे मामले पर एसपी क्राइम अरविंद कुमार के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया शातिर साइबर ठगों के द्वारा क्रेडिट कार्ड बन्द होने के नाम पर महिला के साथ ठगी की गई थी,आज आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है,वहीं फरार आरोपियों की तलाश जारी है,साथ ही एसपी क्राइम के द्वारा आम जनता से अपना क्रेडिट कार्ड ओटीपी किसी को ना बताने की अपील भी है,उनके द्वारा कहा गया कोई कितना भी बड़ा क्रिमनल क्यों ना हो वो बिना आपकी मर्जी के आपका ओटीपी हासिल नहीं करसकता इसलिए कोई भी व्यक्ति अपना ओटीपी किसी से शेयर ना करें |

input : मोहम्मद शाहनवाज

यह भी देखे : जब किसी इंसान की एकदम से मृत्यु होती है तो उसकी प्रक्रिया किस प्रकार होती है

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here