Visitors have accessed this post 27 times.

अलीगढ़ के थाना क्वार्सी इलाका स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सालय कोविड अस्पताल के स्टाफ की बेहद ही गंभीर लापरवाही सामने आई है। जहां एक नए कोरोना मरीज को किसी मृतक कोविड मरीज के नाम से भर्ती कर डाला। रजिस्टर में दर्ज नाम के हिसाब से सर्च करने पर स्टाफ को जब मरीज नहीं मिला तो परिजनों को फोन कर पूछा गया कि आपका मरीज कहां है? यह बात सुनकर परिजन दौड़े-दौड़े देर रात अस्पताल पहुंचे, तो हॉस्पिटल के हर वार्ड के एक-एक बेड पर सर्च करने के बाद मरीज मिल गया। जिसे किसी मृत हुए कोविड मरीज के नाम से उसी बेड पर भर्ती कर दिया गया था। परिजनों का आरोप है कि आज दोपहर में जब परिजन मरीज की हालत पूछने गए तो बताया गया कि आपके मरीज की तो देर रात 12:30 बजे के बाद ही मृत्यु हो गई। परिजनों का आरोप है कि देर रात मृत हुए मरीज की सूचना आज दोपहर तक भी नहीं दी गई। दरअसल थाना क्वार्सी इलाके के रामघाट रोड स्थित निरंजनपुरी निवासी करीब 61 वर्षीय ब्रजेशचंद्र शर्मा को कोविड पॉजिटिव आने के बाद 29 अप्रैल को एम्बुलेन्स द्वारा दीनदयाल में अस्पताल में रात को 9 बजे ले जाया गया। जहां गेट पर मौजूद रजिस्टर में पूरी डिटेल दर्ज की गईं। अगले दिन 30 अप्रैल को दोपहर 12:00 बजे हॉस्पिटल से फोन आया कि आपका मरीज कहां है? यह सुनकर परिजन धक्क रह गए और दौड़े-दौड़े अस्पताल पहुंचे। जहां पहुंचने के बाद लगभग 3 घंटे के पश्चात मालूम हुआ कि वार्ड नंबर 9 पर बेड नंबर 29 पर किसी हरिओम शर्मा के नाम से ब्रजेश चंद्र शर्मा को भर्ती किया हुआ है। उस समय डॉक्टर गयास वहां पर ड्यूटी पर मौजूद थे। जो कि रात में 10:00 बजे तक ड्यूटी पर रहे। जिनके बाद डॉक्टर मेहल मित्तल रात 10:00 बजे से सुबह 8:00 बजे तक ड्यूटी पर रहे। परिजनों के मुताबिक आज 1 मई को सुबह लगभग 11:30 बजे परिजन तबीयत की जानकारी करने हॉस्पिटल पहुंचे तो पता चला कि हरिओम शर्मा की रात 12:30 बजे ही मृत्यु हो गई। परिजनों का आरोप है कि हॉस्पिटल स्टाफ ने मरीज की कोई भी देखभाल नहीं की। उन्हें उल्टा सीधा जैसे कि तैसा ही पड़ा रहने दिया। जिनकी तड़प तड़प कर मृत्यु हो गई। मृतक की बॉडी पूरी रात बेड पर ही पड़ी रही, जिसके चकते अकड़ भी गई। परिजनों का यह भी आरोप है कि एक रात पहले मृत्यु हुए उनके परिजन के शव को दोपहर बाद अब तक भी सौंपा नहीं गया है, और ना ही कोई सटीक जानकारी दी गई है। जिसके चलते कार्यवाही हेतु जिला अधिकारी को एक पत्र भी परिजनों ने लिखा है।

INPUT – मोहम्मद शाहनवाज

sasni new wave

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA ऐप

http://is.gd/ApbsnE