Visitors have accessed this post 30 times.

AMU छात्रों ने कैंडल मार्च निकाल पर कोरोना से हुई प्रोफसरों की मौत पर दी श्रद्धांजलि

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में शनिवार को छात्रों ने कोरोना संक्रमण से मरे 19 प्रोफसरों सहित अन्य शिक्षकों को कैंडल मार्च निकाल कर श्रद्धांजलि दी. छात्रों ने कैंडल मार्च निकालने से पहले कुरान ख्वानी भी की. कैंडल मार्च सर सैय्यद हास्टल से बाबे सैय्यद गेट तक निकाला गया. छात्रों ने बताया कि हमारे जो शिक्षक अब दुनिया में नहीं हैं.उनके परिवार के दुख दर्द में हर वक्त साथ है. छात्रों ने कहा कि शिक्षक हमारे अभिभावक है और उनके चले जाने से बहुत तकलीफ है.एएमयू छात्रों ने कुलपति से मांग की है कि जो वैक्सीनेशन सरकार की तरफ से मेडिकल और जिला अस्पताल में कराया जा रहा है. इसमें दिक्कतें आ रही है. छात्र नेता जैद शेरवानी ने बताया कि शिक्षकों के लिए टीचिंग स्टाफ क्लब में और छात्रों के लिए जेएन मेडिकल कालेज में या फिर एनआरएससी क्लब में वैक्सीनेशन सेंटर बनाने की व्यवस्था की जायें.
एएमयू छात्रों ने पढ़ाने वाले प्रोफसरों के कोरोना संक्रमण से मौत होने पर खेद व्यक्त करते हुए कैंडल मार्च निकाला. एएमयू के पूर्व कैबिनेट सदस्य जैद शेरवानी ने बताया कि वैक्सीन की कमी है. और सरकार ठीक से ध्यान नहीं दे रही है. मुख्यमंत्री भी इस ओर ध्यान देकर ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन उपलब्ध करायें . ताकि लोग कोरोना से निजात पा सकें.
छात्रों ने कुलपति से मांग की है कि वैक्सीन के लिए शिक्षकों व छात्रों का अलग इंतजाम किया जाएं.एएमयू प्राक्टर मोहम्मद वसीम ने प्रोफसरों की मौत वैक्सीनेशन नहीं कराएं जाने के सवाल पर कहा कि इस पर मेडिकल कालेज ही बता सकता है. लेकिन जो जानकारी है कि अब तक जिन प्रोफसरों की मौत कोरोना से हुई है. शायद ही किसी ने वैक्सीनेशन कराया हो. हालांकि एएमयू में कोरोना संक्रमण के चलते 19 प्रोफेसरों के साथ रिटायर्ड प्रोफसर व नान टीचिंग स्टाफ मिलाकर करीब 45 लोगों को खो दिया है. अब छात्र एअपने वैक्सीनेशन की अलग सेंटर बनाने की मांग कर रहे हैं

INPUT – मोहम्मद शाहनवाज

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA ऐप

http://is.gd/ApbsnE