Visitors have accessed this post 25 times.

अलीगढ़ के टप्पल थाना इलाके में स्थित नूरपुर गांव फ़िलहाल के दिनों में चर्चा का एक बिंदु बना हुआ है,,26 मई को गांव में रहने वाले दो पक्षों के बीच बारात चढ़ाने को लेकर विवाद हो गया था,,जिसके बाद मारपीट व हाथापाई की नौबत आ गई थी,,, इस दौरान एक पक्ष के 11 लोगों के विरुद्ध नामजद एफआईआर की गई जिसमें पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया,,,,इसके बाद घर बिकाऊ है व पलायन का नया मुद्दा सामने आया जिसके बाद ये लड़ाई व कहासुनी दो समुदायों की लड़ाई बनकर रह गयी,,,मौके पर भाजपा के नेताओं ने पहुँच अलग अलग बयान दिए,,हिन्दू वादी संगठन से जुड़े लोगों ने भी खूब बयानबाज़ी करते हुए कल हनुमान चालीसा का पाठ नूरपुर में कर दिया,,,,अब प्रशासन ने आज दोनों ही पक्ष के लोगों को बुलाकर एक पीस मीटिंग का आयोजन किया,,मुख्य रूप से इस पीस मीटिंग का मतलब इस मामले को राजनीतिक तूल देने से बचाने का है.

input : moh sahenwaj

यह भी देखे : क्या फर्क होता है भूत प्रेत और जिंद में

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave