Visitors have accessed this post 24 times.

अलीगढ़ में पिछले 24 घंटे से लगातार हो रही बारिश के कारण यमुना एक्सप्रेस वे पर एक के बाद एक तीन वोल्वो बस और भेड़ों से भरी एक कैंटर के साथ हादसा हो गया। इन घटनाओं में एक महिला समेत तीन की मौत हो चुकी है। वहीं, करीब दर्जनभर लोग घायल हुए हैं। जिनमें से कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी घायलों को मौके पर पहुंची पुलिस ने जेवर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया दीया है। वहीं, मृतकों के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह तड़के थाना टप्पल इलाके के यमुना एक्सप्रेस वे पर राजस्थान से दिल्ली जा रहा भेड़ों से भरा आईसर कैंटर स्टेरिंग फेल होने की वजह से यमुना एक्सप्रेस वे की पहली लेन में पलट गई। जिसमें ड्राइवर कंडक्टर समेत 7 लोग सवार बताये गए हैं। कैंटर सवार में से मेरठ निवासी भूरा पलटी गाड़ी का जायजा ले ही रहे था कि मथुरा की तरफ से आने वाली स्लीपर वॉल्वो बस ने पलटी हुई आईसर गाड़ी में टक्कर मार दी। जिससे मौके पर ही भूरा की मृत्यु हो गई। कैंटर में सवार अन्य बुलंदशहर निवासी व्यक्ति नन्हे आईसर से उतरकर फुटपाथ की तरफ जाकर खड़ा हो गया। तभी मथुरा की तरफ से आने वाली अन्य दूसरी स्लीपर वॉल्वो बस ने नन्ने को टक्कर मार दी। जिससे उसकी भी मौके पर ही मृत्यु हो गई। जबकि कैंटर में ही सवार हारुन, उमदराज, सरकराज, मान का उपचार उपचार जेवर स्थित कैलाश अस्पताल गौतम बुध नगर में चल रहा है। कुछ वक्त बाद ही यमुना एक्सप्रेस वे पर ही तीसरी वॉल्वो बस जो बिहार से दिल्ली जा रही थी। वह अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसमें सवार दरभंगा बिहार निवासी मंजू नाम की महिला की मौत हो गई। जबकि इस तीसरी बस में सवार करीब 8-10 सवारियों के चोटें आई हैं। हाईवे से गाड़ियां हटवा दी गई हैं। यातायात सुचारू रूप से चल रहा है। कानून व्यवस्था संबंधी कोई समस्या नहीं है।

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave