Visitors have accessed this post 48 times.

अलीगढ़ : शनिवार को रोजगार कौशल विकसित करने के लिए विद्यार्थियों में विषय वस्तु विशेषज्ञयता में दक्षता अत्यन्त जरूरी हैं। इसके साथ ही सॉफ्ट स्किल जिसमें प्रथम संचार दक्षता महत्वपूर्ण है। यदि विद्यार्थी संचार में दक्ष होगा तभी वह रोजगार और उद्यामिता में अपना भविष्य बना पाएगा। यह बात मंगलायतन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केवीएसएम कृष्णा ने इण्डिया डाइडैक्टिक एसोशिएशन द्वारा आयोजित ऑनलाइन संगोष्ठी में कही। इस ऑनलाइन संगोष्ठी में विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने शिरकत किया।

इण्डिया डाइडैक्टिक एसोशिएशन द्वारा आयोजित ऑनलाइन संगोष्ठी में मंगलायतन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केवीएसएम कृष्णा ने संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहाकि विद्यार्थियों को कई विषयों की शिक्षा देने से उनकी काबिलियत को नहीं निखार सकते हैं। विद्यार्थियों को किसी एक विषय में दक्ष बनाना होगा। उन्होंने कहाकि शिक्षकों की नियुक्ति के समय ही यह बात उन्हें बता देनी है तभी शिक्षक विद्यार्थियों को विषय वस्तु.-विशेषज्ञ बना सकेंगे। उन्होंने कहाकि विद्यार्थियों में उद्यामिता के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के साथ-साथ प्रतिभा और संपर्क से भी ज्यादा उपयोगकारी है, आत्मविश्वास और भविष्य उन्मुखी की ओर अग्रसर होना। इस ऑनलाइन संगोष्ठी में विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने शिरकत किया। इण्डिया डाइडैक्टिक एसोशिएशन ऑनलाइन संगोष्ठी को संबोधित करते हुए मंगलायतन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केवीएसएम कृष्णा के द्वारा समझाया गया।

इनपुट : देव प्रकाश