Visitors have accessed this post 53 times.

हसायन : कोतवाली क्षेत्र के गांव अंडौली में सरकारी जगह चकरोड से लकडी का कटान होने की सूचना पर हल्का लेखपाल ने पुलिस को अवैध लकडी से भरे हुए टैक्टर को पकडवा दिया गया। लेखपाल के द्वारा घटना की जानकारी पुलिस को दिए जाने के बाद भी वन विभाग के वीट प्रभारी जरेरा के सुपुर्द लकडी को कर दिया गया। लेखपाल के द्वारा लकडी पकडे जाने के दौरान गांव के ही एक युवक के द्वारा सीएचसी परिसर में जमकर अभद्र व्यवहार करते हुए लेखपाल को धमकाया गया। लेखपाल ने उक्त हरी लकडी से भरे हुए टैक्टर को वन विभाग के सुपुर्द कर दिया। ग्राम पंचायत अंडौली में गांव के ही कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से सरकारी चकरोड को अतिक्रमण करते हुए कब्जा कर लिया गया है। सरकारी चकरोड पर लगे हुए दो पापरी व एक नीम के पेड को गांव के ही एक व्यक्ति ने तीन दिन पहले कटवा दिया। बताया जाता है कि उक्त लकडी को गांव के ही उक्त व्यक्ति के द्वारा टैक्टर में भरवाकर ले जाने का प्रयास किया गया। तो गांव के ही एक अन्य व्यक्ति के द्वारा चकरोड पर खडी हुई लकडी को कटवाने के बाद हसायन कस्बा के लिए ले जाए जाने की सूचना दी। लेखपाल मुकेश कुमार सेंगर ने गांव अंडौली के चकरोड पर लकडी से भरे हुए टैक्टर को पुलिस से पकडवा दिया। पुलिस के द्वारा लकडी से भरा हुआ टैक्टर पकडे जाने के बाद गांव के ग्रामीण व कुछ आरामशीन संचालकों के द्वारा लेखपाल को घेर लिया। साथ ही लकडी को मुक्त कराने के लिए नेतागिरी करने में लग गए। इस दौरान गांव के ही एक युवक के द्वारा लेखपाल के साथ अभद्र व्यवहार करते हुए जमकर खरी-खोटी सुनाई। इस दौरान लेखपाल मुकेश कुमार सेंगर ने वन विभाग के जरेरा वीट प्रभारी श्रीचंद को बुलाकर टैक्टर से भरी हुई लकडी को वन रेंजर सिकन्द्राराऊ के यहां पर दाखिल कराकर टैक्टर को छोड़ दिया गया। वन विभाग के वीट प्रभारी श्रीचंद ने बताया कि लेखपाल मुकेश कुमार सेंगर की शिकायत के आधार पर नीम व पापरी की लकडी को जब्त करते हुए वन विभाग के अधिनियम के तहत वीरेंद्र सिंह पुत्र कुंवर पाल सिंह के खिलाफ मुुकदमा दर्ज करा दिया गया है। गांव अंडौली के लोगों का कहना है कि गांव के सरकारी चकरोड को पन्द्रह मीटर के करीब घेरकर अतिक्रमण कर रखा है।इस संबंध में लेखपाल मुकेश कुमार सेंगर ने बताया कि सरकारी चकरोड पर खडे हुए दो पापरी व एक नीम के पेड का गांव के ही वीरेंद्र सिंह पुत्र कुंवरपाल सिंह के द्वारा अवैध रूप से कटान कर दिया गया था। जब लेखपाल मुकेश कुमार सेंगर के फोन पर संपर्क तो उन्होंने बताया कि सरकारी चकरोड की लकडी को कटान होने के बाद टैक्टर में भरवाकर कोतवाली में लाकर खडा कर दिए जाने के बाद वन विभाग के सुपुर्द कर दिया है। वहीं टैक्टर को छुडवा दिया गया है।

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave