Visitors have accessed this post 26 times.

 गोंडा : डीएम मार्कण्डेय शाही ने कोटेदारों को गोदामों से कम खाद्यान्न दिए जाने की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए सभी खाद्यान्न गोदामों पर नाइट विजन वॉइस रिकॉर्डर सीसीटीवी कैमरे लगवाने के आदेश दिए है ।जिलाधिकारी ने कहा कि उचित दर विक्रेताओं द्वारा राशनकार्ड धारकों को बिना तौल किए निर्धारित मात्रा से कम खाद्यान्न देने तथा खाद्यान्न में कटौती/घटतौली करने जैसी गंभीर अनियमितताओं के प्रकरण संज्ञान में आने पर उनके विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी इसके साथ ही गोदामों से कोटेदारों को कम खाद्यान्न दिए जाने पर कठोरतम कार्यवाही सुनिश्चित होगी। उन्होंने कहा कि यह तथ्य संज्ञान में आया है कि खाद्य विपणन विभाग के विकास खण्ड मुख्यालय पर स्थित गोदामों से कोटेदारों को बिना तौल किए अनुमान के आधार पर खाद्यान्न दिया जाता है। जबकि गोदामों से दुकानदारों को तौल के बाद पूरी मात्रा में खाद्यान्न दिए जाने के शासन के स्पष्ट निर्देश हैं, परन्तु कदाचित इन निर्देशों का सम्यक् रूप से अनुपालन नहीं हो पा रहा है।इसलिए इस पर प्रभावी तौर पर अंकुश लगाने, परिणामतः पात्र लाभार्थियों को शासन की मंशा के अनुरूप खाद्यान्न उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यह आदेश दिए गए  है कि खाद्य विपणन विभाग के गोदामों से उचित दर विक्रेताओं को तौल के बाद ही खाद्यान्न निर्गत किया जाएगा ताकि उनके द्वारा उपभोक्ताओं को खाद्यान्न तौलकर पूरी मात्रा में दिया जाए।इस व्यवस्था की प्रभावी मानीटरिंग सुनिश्चित किए जाने के लिए प्रत्येक खाद्यान्न गोदाम पर फोटो व आडियो रिकार्डिंग सुविधायुक्त सी.सी.टी.वी. कैमरे लगवा दिया जाये और इन्हें चौबीस घंटे क्रियाशील स्थिति में रखा जाए। इन कैमरों की आनलाइन कनेक्टिविटी की व्यवस्था कराते हुए इनकी ऑनलाइन कनेक्टिविटी सुविधा तहसील के आपूर्ति अनुभाग, जिला पूर्ति अधिकारी, जिला खाद्य विपणन अधिकारी को देते हुए ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर से समन्वयन कर डीएम के कार्यालय को भी लिंक उपलब्ध कराया जाए, ताकि आवश्यकतानुसार सी.सी.टी.वी. फुटेज देखा जा सके।
जिलाधिकारी ने जिला खाद्य विपणन अधिकारी व जिला पूर्ति अधिकारी को तत्काल सीसीटीवी लगवाकर उसका लिंक सभी संबंधित अधिकारियों को उपलब्ध कराने के आदेश दिए हैं।

Mo Fahad copy

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave