Visitors have accessed this post 16 times.

अमेठी : भारत सरकार के द्वारा गरीबों को लकड़ी के चूल्हे पर खाना बनाने से राहत देने के लिए उज्जवला योजना लांच की गई । जिससे धुँए से महिलाओं की आंखों को बचाया जा सके और आंखों की जिंदगी बढ़ाई जा सके। इस योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को मुफ्त में गैस सिलेंडर दिए गए । निसंदेह यह भारत सरकार की बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना थी । जिसके चलते गरीबों के पास भी आज गैस चूल्हा नसीब हो सका है। लेकिन सरकार के द्वारा जो सोचा गया था वह यह योजना में मील का पत्थर साबित नहीं हो सका । क्योंकि बेतहाशा बढ़ती हुई महंगाई के चलते गैस सिलेंडर के दामों में अतिशय वृद्धि हो गई। जिसके कारण गरीबों को इस सिलेंडर को भराने में बड़ी ही मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है । तमाम लाभार्थी तो ऐसे हैं जो सिलेंडर को घर में रखे हुए हैं और चूल्हे पर खाना बनाते हैं । उनका कहना है कि इस समय सिलेंडर के दाम ₹1000 हो चुके हैं ऐसे में ₹300 की दिहाड़ी मजदूरी करने वाला व्यक्ति अपने बच्चों का पेट पाले अथवा गैस सिलेंडर भराए ? भारतीय जनता पार्टी की इसी सरकार में गैस सिलेंडर के दाम ₹400 से बढ़कर ₹1000 तक पहुंच चुके हैं। ऐसे में जब ₹400 का सिलेंडर था तब लगभग 80% उज्जवला योजना के लाभार्थी गैस चूल्हे का प्रयोग करते थे । किंतु जैसे ही महंगाई बढ़ती गई लाभार्थियों की क्षमता घटती चली गई । आज अगर हम बात करते हैं तो कुल लाभार्थियों में से केवल 30% लाभार्थी ऐसे हैं जो अपने सिलेंडर को रिफिल करा रहे हैं और गैस पर खाना पका रहे हैं। 70% लाभार्थी इस गैस चूल्हे का उपयोग नहीं कर रहे हैं वह उनके घर में के एक कोने में पड़े धूल मिट्टी फांक रहा है। ऐसे में लाभार्थियों का कहना है कि सरकार यदि गैस सिलेंडर के दामों में कमी लाती है तो हम लोग इसका उपयोग कर पाएंगे । अन्यथा हम लोगों के लिए यह बेकार है। कुछ लाभार्थियों ने तो यहां तक कहा कि यदि सरकार इस कनेक्शन का पैसा एक बार ले ली होती लेकिन बार-बार होने वाली रिफिलिंग के दाम कम होते तो हम लोगों को समस्या ना होती। क्योंकि एक बार तो कहीं से व्यवस्था करके आदमी कर सकता है लेकिन हर महीने का खर्च हम गरीबों को मार ही डालेगा। इस प्रकार सरकार के द्वारा जो उद्देश्य लेकर यह योजना लागू की गई वह कहीं ना कहीं विफल नजर आ रही है।

INPUT – Rahul Sukla

sasni new wave

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE