Visitors have accessed this post 111 times.

गोंडा : सरकार द्वारा लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ निःशुल्क दिलाने के मंसूबो को पलीता लगाने में जिम्मेदार किसी भी तरह से चूकना नही चाहते।
पीड़ित लोग शिकायत कर के जिम्मेदार जनप्रतिनिधियों से बगावत तो ले लेते हैं लेकिन अधिकारियों द्वारा उन्हें न्याय मिल पाना मुश्किल होता है।
ताजा मामला गोण्डा जनपद के विकासखण्ड तरबगंज अन्तर्गत ग्रामसभा अकबरपुर का है। यहां के निवासी विश्व प्रकाश द्वारा डीएम से शिकायत की गई जिसमें आरोप लगाया गया कि ग्राम प्रधान व उनके प्रतिनिधि द्वारा दर्जनो आवास लाभार्थियों से पीएम आवास की पहली किश्त खाते में आने पर दस दस हजार रुपये की अवैध वसूली की गई है।डीएम ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए इसकी जांच बीडीओ को सौंपते हुए कार्यवाही के लिए निर्देशित किया था। बीडीओ ने प्रकरण की जांच उसी ग्रामसभा में तैनात सचिव को सौंप दी जिसमे सचिव ने मामले को राजनैतिक द्वेश भावना को दिखाते हुए शिकायत को फर्जी दिखा दिया। जबकि आवास लाभार्थियों में शामिल महिला अंतिमा व श्यामकली ने बताया कि रोजगार सेवक व प्रधान प्रतिनिधि द्वारा उससे दस हजार रुपये लिए गए हैं। पहली किश्त में से रकम खर्च हो जाने से उसे अब कहीं से उधार लेकर आवास निर्माण का कार्य शुरू करना पड़ेगा। आप को बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले इसी विकासखण्ड के खजूरी ग्रामसभा में भी आवास में अवैध वसूली का मामला प्रकाश में आया था। प्रधान प्रतिनिधि द्वारा घूस मांगने का ऑडियो भी वायरल हुआ था। जिले के आला अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाने के बावजूद भी अब तक गरीब महिला को न्याय नही मिल सका है। वहीं अब अकबरपुर ग्रामसभा में अवैध वसूली का मामला प्रकाश में आने व हुई शिकायत में सौंपी गई जांच में सचिव ने राजनैतिक मामला दिखाते हुए मामले का पटाक्षेप कर दिया है। वहीं जब प्रकरण में खंड विकास अधिकारी से बात करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन रिसीव नही किया।

INPUT – Mo Fahed
sasni new wave

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE