Visitors have accessed this post 104 times.

झांसी। संयुक्त संघर्ष संचालन समिति उत्तर प्रदेश द्वारा पुरानी पेन्शन बहाली के लिए प्रान्तीय आह्वान पर दूसरे चरण में शिक्षा भवन प्रांगण से गांधी प्रतिमा तक कैण्डल मार्च निकाला गया। इसके पूर्व शिक्षा भवन मे सभा का आयोजन हुआ। वक्ताओं ने नवीन पेन्शन योजना को धता बताया। नई पेन्शन लागू होने से सेवानिवृत्ति के पश्चात लोगों का भविष्य अंधकारमय है। जितेन्द्र दीक्षित ने कहा कि सरकारी सेवक-शिक्षक लोक कल्याणकारी राज्य की रीढ़ है। उनके भविष्य से खिलवाड़ करने वाली नीति खेदजनक है। विगत 13 वर्षों से एनपीएस के रख-रखाव प्रक्रिया, लेखा-जोखा एवं धनराशि के भुगतान पर शंसय की स्थिति ज़ाहिर करते हुए इसे पूर्ण रूप से कर्मियों को क्षति पहुंचाने वाली नीति बताया। सरकारी सेवकों को पुरानी पेन्शन देने में सरकार संसाधनों की कमी बताती है। जबकि जनप्रतिनिधियों को एक से अधिक पेन्शन व्यवस्था, वृद्धावस्था, विकलांग, विधवा, लोकतंत्र सेनानी, स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी, यश भारती आदि पेन्शन के लिए सरकार के पास धन का अभाव नही है। महेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि पेन्शन हक़ है, लेकर रहेंगे। उन्होंने इसके लिए हर संघर्ष के लिए संकल्पित होने का आह्वान किया। इसके पश्चात कैण्डल मार्च निकाला गया। तहसीलदार को राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन सौंपकर पुरानी पेन्शन बहाली की मांग की गई। इस दौरान उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के ज़िलाध्यक्ष जितेन्द्र दीक्षित (डायरेक्टर ज़िला सहकारी बैंक), मन्त्री संजीव तिवारी (सभापति सहकारी समिति वेतन भोगी बेसिक शिक्षा), प्रवक्ता नोमान (आईटी सेल प्रभारी नेशनल मूवमेंट फ़ॉर ओल्ड पेन्शन स्कीम), महेन्द्र श्रीवास्तव (मण्डलीय मन्त्री राज्य संयक्त कर्मचारी परिषद), प्रभात सिरौठिया, सोहन कश्यप, नन्द किशोर वर्मा, महेश दीक्षित, भारत भूषण राय, चंद्रभानु दुबे, अरुण निरञ्जन, अमित स्वर्णकार, ऋषभ जैन, सोहन यादव, हरप्रीत कौर, मनोज श्रीवास्तव, देवी प्रसाद, रानी शर्मा, पुष्पेन्द्र परिहार, संतोष सिद्दीकी, देवेन्द्र श्रीवास्तव, दिलीप राजपूत, अंतरिक्ष कुशवाहा, गजेन्द्र सिंह, मुकेश सेन, जनक सिंह चौहान, फ़िरोज़ खान, कृष्ण बिहारी, राघवेन्द्र भदौरिया, मनीष तिवारी, श्रुति गुप्ता, वर्षा शर्मा, स्मिता जैन, राघवेन्द्र पटेल, राजेन्द्र निरञ्जन, संजीव रावत, बादाम सिंह यादव, शिवकुमार पाराशर, रमेश कुशवाहा, अवध किशोर, मनीष तिवारी, सोनू जैन, नीलम अग्रवाल, प्रवीण सिंह, मधु पासी, छाया निरञ्जन, सुनीता शर्मा, रेणु चौरसिया, मोहम्मद नसीम खान, भारती तिगु नायक, दीपक त्रिपाठी, सिरित तिवारी, अवध पटेल, प्रतिमा निगम, सुनीता देव, रचना गुप्ता, दीपक यादव, राधा लक्षकार, सौरभ अग्रवाल, केपी सिंह, शिवम शर्मा, अजय मंगलम, राहुल त्यागी, विवेक पाण्डेय, कृष्ण मुरारी कुशवाहा, शिवदत्त गुप्ता, वीरेन्द्र चौदा, मुकेश अहिरवार, संजीव अदजरिया, विनोद गुप्ता, मोहित मिश्रा आदि मौजूद रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here