Visitors have accessed this post 60 times.

बरेली में समाजवादी पार्टी से बहेड़ी विधानसभा के कद्दावर नेता रहे स्वर्गीय मंज़ूर अहमद के पुत्र अंजुम रशीद फिर सपा के साथ आ गए हैं,बरेली की 9 विधानसभाओं में से कई एक विधान सभाओं पर स्वर्गीय मंज़ूर अहमद का राजनीतिक असर असर देखा जाता था,मंज़ूर अहमद की विधान सभा भवन के सामने गोली मारकर की गई थी हत्या,शहीद मंज़ूर अहमद के बाद आज भी बहेड़ी के अलावा कई विधान सभाओं पर उनके पुत्र अंजुम रशीद की मजबूत पकड़ रहती है, विधायक मंज़ूर हत्याकांड के बाद मंज़ूर अहमद की पत्नी लड़ी थी सपा से उप चुनाव,बसपा भाजपा गठबंधन के बाद भी उप चुनाव में बसपा नेता को जीतने के लिए करनी पड़ी थी कड़ी मेहनत,शहीद मंज़ूर अहमद के पौत्र आजम रसीद की सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद से ही स्थानीय राजनीति गर्म है,अंजुम रशीद के विधान सभा चुनाव लडने की अटकलें लगई जा रहीं हैं ,सपा के पूर्व मंत्री अता उर रहमान और हाल ही में बसपा छोड़ सपा में शामिल हुए नसीम अहमद के बीच चल रही राजनीतिक लड़ाई के दौरान जनता के बीच अंजुम रशीद को सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है ,स्थानीय लोगों का मानना है अगर पार्टी अंजुम रशीद को बहेड़ी विधानसभा से अपना प्रत्याशी बनाती है तो रिकार्ड मतो से समाजवादी की जीत दर्ज होगी,अब देखना यह है सपा मुखिया अखिलेश यादव अगामी विधानसभा चुनाव में बहेड़ी के लिए किया सही फैसला लेते हैं ।

 

fazal

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave