breaking 1

Visitors have accessed this post 29 times.

अलीगढ़ : सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर ने सोमवार को अलीगढ़ में मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन क्वार्सी स्थित सपा कार्यालय पर केक काटकर मनाया . किसानों के लखनऊ पंचायत पर उन्होंने कहा कि किसानों के बिल को लेकर अभी प्रधानमंत्री ने मौखिक बात कही है और जनता का विश्वास प्रधानमंत्री पर से उठ गया है. मोदी जी ने महंगाई कम करने और युवाओं को हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वायदा किया था. लेकिन कोई वायदा पूरा नहीं किया. उन्होंने कहा कि किसान बिल जब तक लोकसभा के अंदर वापस न हो जाएं. तब तक प्रधानमंत्री पर विश्वास नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि इस कानून को लेकर करीब 50 हजार किसानों पर मुकदमा लिखा गया हैं. क्या इन मुकदमों को वापस लिया जाएगा ? 700 से ज्यादा किसान इस आंदोलन में शहीद हो गये. क्या उन्हें शहीद का दर्जा और उनके परिवार को सरकार मुआवजा देगी ? उन्होंने लखीमपुर घटना का जिक्र करते हुए कहा कि गृह राज्य मंत्री को अभी तक मोदी सरकार ने अपने मंत्रिमंडल से नहीं हटाया है .
ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि जाति जनगणना पिछले 90 सालों से नहीं हुई है. उन्होंने कहा कि संविधान में व्यवस्था दी गई है कि हर 10 साल में जातिगत जनगणना जरूरी है. लेकिन 90 साल से भाजपा और कांग्रेस की सरकार ने जातिगत जनगणना नहीं कराई. बहुत सी पिछड़ी जातियों को आरक्षण का लाभ नहीं मिल पा रहा है . ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि समाजवादी पार्टी से समझौते के लिए जनता का दबाव बना और जब समझौते की पहल की तो हमारे कार्यकर्ताओं ने इसका स्वागत किया. उन्होंने कहा कि समझौते के तहत अगर समाजवादी पार्टी ज्यादा से ज्यादा सीट एलायंस को देगी. तो समाजवादी पार्टी क्या करेगी. उन्होंने ओवैसी की पार्टी के लिए कहा कि 100 सीट पर लड़ने का कोई मतलब नहीं है. अगर वह 10 सीट पर ढंग से लड़े तो उसका रिजल्ट अच्छा मिलेगा.
उन्होंने कहा कि नागपुर ऐसा सेंटर है जहां भाजपा के नेताओं को झूठ बोलने की ट्रेनिंग दी जाती है. मुख्यमंत्री आदित्य नाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि गोरखपुर में मुख्यमंत्री कहते हैं कि 40 लाख लोगों को नौकरी दे दी. अंबेडकरनगर में कहते हैं कि 25 लाख नौकरी दे दी. फिर कह रहे हैं कि चार लाख नौकरी दी. तो इनकी बात पर कोई भरोसा नहीं है. मुख्यमंत्री कहते हैं उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था ठीक कर दिया. लेकिन पत्रकार जब सही बात लिखता है तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया जाता है. उन्होंने कहा कि अगर हमारी सरकार बनती है तो पत्रकार आयोग का गठन करेंगे.

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी और प्रधानमंत्री मोदी के फोटो पर कहा कि यह फोटो खिंचवा कर ड्रामा कर रहे हैं. यह भारतीय ड्रामा पार्टी है. महंगाई कम करने के लिए नहीं सोच रहे हैं. किसान, नौजवान परेशान है उसके बारे में नहीं सोच रहे . उन्होंने कहा कि प्रदेश में नफरत की राजनीति को खत्म करना प्राथमिकता है .

एनआरसी को लेकर उन्होंने कहा कि यह कानून लाया ही क्यों गया . तीन कृषि कानून क्यों लाया गया. जो देश की समस्या है. उसको दूर करने से सरकार भाग रही है. वही शिवपाल यादव पर कहा कि कोई झगड़ा नहीं है चाचा और भतीजा एक हैं. और एक रहेंगे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने एक रास्ता दे दिया है कि आप अगर कोई चीज मनवाना चाहते हो. तो आंदोलन करो. 12 महीने किसानों ने आंदोलन किया. उसके बाद कृषि कानून वापस लिया. इसी तरीके से महंगाई लोग परेशान है. महंगाई को कम करवाने के लिए आंदोलन करना जरूरी है. जिससे प्रधानमंत्री मोदी कदम उठायेंगे .

Input : ZA Khan

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave