Visitors have accessed this post 42 times.

अलीगढ़ में हुए शराब कांड के आरोपियों को पुलिस के द्वारा जेल में भेज दिया गया था वहीं पुलिस के द्वारा जेल
भेजी गई रेनू शर्मा की जेल में मौत हो गई थी जिसके बाद मर्तिका के गुस्साए परिजनों के द्वारा अलीगढ़ में घंटाघर के समीप धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया था पीड़ित परिजनों के द्वारा मांग की जा रही थी नारको टेस्ट व सीबीआई जांच की जाए जिससे पता चल सके आरोपी कौन है
आपको बता दें शराब कांड के मुख्य आरोपी ऋषि के द्वारा कोर्ट की तारीख पर आने के दौरान कोर्ट मैं एक बयान दिया था उनके द्वारा कहा गया था वह अगर गुनहगार है तू ने फांसी पर चढ़ा दिया जाए जिसके बाद मामला गरमा गया परिजनों के द्वारा। उसी दिन से घण्टाघर के समीप धरना प्रदर्शन करते हुए नारको टेस्ट व सीबीआई जांच की मांग की जा रही थी जिससे उनके परिवार को न्याय मिल सके

वीओ– दरअसल पूरा मामला जिला अलीगढ़ के शहर का है जहां पर बीते दिनों अलीगढ़ जिले के अलग-अलग जगहों पर शराब कांड की घटना हुई थी जिसमें 1 दर्जन लोग अपनी जान को गवा बैठे थे पुलिस के द्वारा कड़ी कार्यवाही करते हुए तमाम अवैध शराब की फैक्ट्रियों को सील किया था साथ ही आरोपियों को जेल में भेज दिया गया था उनकी संपत्ति को कुर्क करते हुए संपत्ति में शामिल आरोपियों को को भी जेल भेजा था जिसमें ऋषि शर्मा को मुख्य आरोपी बनाते हुए उनकी पत्नी रेनू शर्मा को भी जेल भेज दिया गया था वही हिरासत के दौरान जेल शर्मा की जेल में ही मौत हो गई जिसके बाद गुस्साए परिजनों के द्वारा जांच की मांग की जा रही थी वही जेल से कोर्ट में तारीख पर आए ऋषि शर्मा के द्वारा अपने को बेगुनाह बताते हुए सीबीआई जांच नारको टेस्ट की मांग की थी जिसके बाद मामला गर्मा था चला गया तमाम तरह के संगठनों व ब्राह्मण संगठन के द्वारा सीबीआई जांच की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन किया जा रहा था जिसके बाद प्रशासन भी सकते में आ गया आज ब्राह्मण सभा के नेता पंकज धावरिया के द्वारा अलीगढ़ में जमकर प्रदर्शन किया गया धरना स्थल पर मौके पर भारी मात्रा में पुलिस के द्वारा ब्राह्मण समाज के नेता को समझाने का काम किया जिसके बाद एसीएम के द्वारा जांच कर कार्यवाही का आश्वासन देते हुए पीड़ित परिवार को जूस पिलाकर धरना समाप्त कराया है |

INPUT – ZA KHAN

अपनी क्षेत्रीय ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA चैनल का एंड्राइड ऐप –

http://is.gd/ApbsnE