Visitors have accessed this post 57 times.

अलीगढ़ के बन्नादेवी थाना क्षेत्र के जीटी रोड सुरक्षा विहार मोड़ पर जमीनी विवाद में ठाकुर व लोधी समाज के दो भाजपा नेता गुटों में फायरिंग की घटना में नया मोड़ आ गया है। इस घटना में लोधी समाज ने भुकरावली में पंचायत कर पुलिस पर भाजपा नेता लालजी वर्मा व उनके परिवार के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई का आरोप लगाया।
कहा कि यह भाजपा के एक राष्ट्रीय नेता के इशारे व दबाव में हो रहा है। इसका परिणाम आने वाले विधानसभा चुनाव में बरौली सहित जिले भर में देखने को मिलेगा। इस दौरान पुलिस प्रशासन का पुतला भी फूंका गया। हालांकि मौके पर पुलिस अधिकारी भी पहुंच गए। उनके समझाने व उचित आश्वासन पर पंचायत समाप्त हुई। इधर, बिना अनुमति पंचायत व पुतला फूंकने पर देर रात पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।

पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार, लोधी समाज के लोग बड़ी संख्या में सुबह से ही जीटी रोड के गेस्ट हाउस में एकत्रित हुए और आक्रोश निकाला। कहा कि जिले की राजनीति और प्रशासनिक हलके में वर्चस्व रखने वाले भाजपा के राष्ट्रीय नेता के इशारे पर पुलिस द्वारा एकतरफा कार्रवाई की जा रही है। इस दौरान अखिल भारतीय लोधी समाज के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह लोधी ने कहा कि भाजपा नेता लालजी वर्मा लोधी और महेंद्र प्रताप सिंह उर्फ पिंका ठाकुर के बीच जमीनी विवाद था।
पिंका ठाकुर जबरदस्ती लालजी वर्मा की जमीन पर कब्जा करना चाहते थे। इसी के चलते दो दिन पूर्व पिंका ठाकुर ने लालजी वर्मा पर हमला कर दिया। लालजी वर्मा और पिंका ठाकुर पक्ष में खूनी संघर्ष होने पर पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई करते हुए लालजी वर्मा उनके पुत्र पूर्व जिला पंचायत सदस्य नरेंद्र सिंह व घायल राजीव सिंह को जेल भेज दिया।
वहीं, पिंका ठाकुर पक्ष पर कोई कार्रवाई नहीं की। इस मामले में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। लोधी समाज के नेता मुकेश लोधी ने कहा कि जिला व पुलिस प्रशासन ने जनपद की राजनीति व पुलिस प्रशासन में वर्चस्व रखने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता ठाकुर आरपी सिंह के दबाव में आकर लोधी समाज के निर्दोष लालजी वर्मा पक्ष पर एक तरफा भेदभाव पूर्ण कार्रवाई की है, जबकि पिंका ठाकुर और उनके पक्ष के लोगों का पुराने आपराधिक इतिहास हैं और कई मुकदमे दर्ज हैं।

Za Khan
za khan

अपनी क्षेत्रीय ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA चैनल का एंड्राइड ऐप –

http://is.gd/ApbsnE