Visitors have accessed this post 29 times.

समाजवादी पार्टी के युवा फ्रंटलों के जिला और महानगर पदाधिकारियों ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का पुतला फूंका उन्हें काले झंडे और काले गुबारे दिखाये। इस दौरान सपाइयों ने भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अमित शाह गो बैक के नारे लगाए। पुलिस ने कई सपा पदाधिकारियों को उनके घर पर ही हिरासत में ले लिया, जिससे कार्यकर्ताओं में रोष था। कार्यकर्ताओं का कहना था कि ये अमित शाह अलीगढ़ में कोरोना फैलाना चाहते हैं।
गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तालानगरी जन विश्वास यात्रा को संबोधित करने पहुंचे। उनके विरोध में समाजवादी पार्टी के युवजन सभा जिलाध्यक्ष रंजीत चौधरी के नेतृत्व में उमराव वाटिका पर यूथ फ्रंटलों के सैकड़ों कार्यकर्ता इकठ्ठे हुए।युवजन सभा जिलाध्यक्ष रंजीत चौधरी और यूथ बिग्रेड जिलाध्यक्ष संजय शर्मा, युवजन सभा महानगर अध्यक्ष आमिर आबिद ने फ्रंटलों के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ अलीगढ़ रामघाट रोड पर उमराव वाटिका के सामने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्यक्रम स्थल तालानगरी की तरफ कार्यकर्ताओं के साथ जाने लगे तो पुलिस ने रोका इस पर कार्यकर्ताओं ने गृहमंत्री अमित शाह का पुतला दहन कर सड़क पर ही बैठ गए तो पुलिस ने गिरफ्तार कर स्टेडियम ले आयी वहां महानगर अध्यक्ष अब्दुल हमीद घोषी और महानगर महासचिव मनोज यादव अपनी टीम के साथ पहुंच गए उन्होंने गिरफ्तारी का विरोध किया और यूथ फ्रंटलों के सभी कार्यकर्ताओं को छुड़ाकर अपने साथ ले आये।
युवजन सभा जिलाध्यक्ष रंजीत चौधरी ने कहा कि ये भाजपा सरकार दोगुली और झूठी है एक तरफ कोरोना का डर दिखाकर नाइट कर्फ्यू लगा रही है दूसरी तरफ खुद भीड़ इकट्ठा कर कोरोना फैला रहे हैं गृह मंत्री अमित शाह। क्या रात में में कोरोना फैलता है, क्या कोरोना के समय हजारों की भीड़ इकट्ठा करने से कोरोना नहीं फैलेगा ? गृह मंत्री अमित शाह की दुरवीन अब काम नहीं कर रही क्या उन्हें अलीगढ़ मंडल की जनता के जीवन की बिल्कुल परवाह नहीं ये अलीगढ़ वासियों की जिंदगी से खिलवाड़ कर यहाँ कोरोना फैलाना चाहते हैं।

INPUT – ZA KHAN

अपनी क्षेत्रीय ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA चैनल का एंड्राइड ऐप –

http://is.gd/ApbsnE