Visitors have accessed this post 32 times.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज़ ने धर्म संसद का विरोध किया है. 22-23 जनवरी को अलीगढ़ में धर्म संसद होने जा रही है. इसके विरोध में सलमान इम्तियाज़ जिलाधिकारी से इसे अनुमति नहीं दिए जाने की मांग की है. साथ ही राष्ट्रपति और गवर्नर को पत्र लिखा है. सलमान इम्तियाज़ ने कहा कि इसको धर्म संसद बिलकुल नहीं मानते हैं. क्यूंकि ये किसी ख़ास मज़हब का सहारा लेकर उसको बदनाम करता है. हम इसको आतंकी संसद कहते हैं. क्यूंकि ये आतंक फैलाने का काम कर रहा है न कि किसी धर्म को फैलाने की बात कर रहा है . इस लिहाज़ से हम इसका पूरी तरह से बहिष्कार करते हैं और मेरी दरख़्वास्त है जिला प्रशासन से और माननीय राष्ट्रपति से कि इन लोगों की पहचान की जाए. जो लोग आतंकी संसद कर रहे हैं और आतंक को फैला रहे हैं और साथ ही साथ जो लोग इनकी मदद कर रहे हैं उन्हें भी पहचाना जाए और इनके ऊपर रासुका और देशद्रोह का मुक़दमा चलना चाहिए . जोकि मासूम लोगों पर CAA NRC के वक़्त लगाया गया था |

INPUT – ZA KHAN

अपनी क्षेत्रीय ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA चैनल का एंड्राइड ऐप –

http://is.gd/ApbsnE