Visitors have accessed this post 41 times.

बरेली के बहेड़ी मे सड़क पर लगे साइन बोर्ड पर छपी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की तस्वीर पर काला पेंट पोत देने पर सपा के पूर्व मंत्री अताउर रहमान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। इसमें नारायन नगला के ग्राम प्रधान नवी और उसके बेटे नफीस अहमद को भी नामजद किया गया है जबकि दस को अज्ञात बताया गया है।बहेड़ी से शीशगढ़ जाने वाले मार्ग पर नरायन नगला चौराहे पर सड़क के ऊपर इलाके के प्रमुख स्थानों की दूरी प्रदर्शित करने वाला साइन बोर्ड लगा हुआ है। इस बोर्ड पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की तस्वीर भी छपी हुई है। आरोप है कि बृहस्पतिवार दोपहर तीन बजे पूर्व मंत्री और सपा नेता अताउर रहमान के उकसाने पर नारायन नगला के प्रधान नवी अहमद और उसके बेटे नफीस ने दस और लोगों के साथ जेसीबी मंगाई और उस पर चढ़कर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की तस्वीरों पर काला पेंट पोत दिया।

जाम सावंत गांव में रहने वाले भाजपा के मंडल प्रभारी सतीश राठौर ने की ओर से लिखाई गई रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपियों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने की नीयत से अभद्र टिप्पणी भी की। इसके साथ कटर से साइन बोर्ड को काटकर सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया। कुछ लोगों के विरोध करने पर आरोपियों ने नाजायज असलहे दिखाकर उन्हें धमका दिया। कुछ लोगों ने इस घटनाक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।
सतीश राठौर का कहना है कि वीडियो से ही यह घटना उनकी जानकारी में आई जिसके बाद उन्होंने थाना बहेड़ी में तहरीर दी। इस घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल है। भाजपाइयों ने इस मामले में डीजीपी से भी शिकायत कर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

दस तारीख से लखनऊ में हूं। मुझे इस घटना के बारे में पता तक नहीं है। छत्रपाल सिंह को क्षेत्र की जनता ने नकार दिया है इसलिए वह भद्दी हरकतों पर उतर आए हैं। खुद कालिख पुतवा दी होगी और खुद ही रिपोर्ट भी दर्ज करा दी। इसका जवाब जनता चुनाव में मतदान के जरिए उन्हें देगी। – अताउर्रहमान, पूर्व मंत्री एवं सपा नेता |

INPUT – FAZAL UR RAHMAN

अपनी क्षेत्रीय ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA चैनल का एंड्राइड ऐप –

http://is.gd/ApbsnE