Visitors have accessed this post 55 times.

पटना : शनिवार को गंगा घाट का निरीक्षण करते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व अन्य लोकआस्था के महापर्व छठ पर लॉ एंड आॅर्डर से लेकर घाटों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी गंभीर है. इसे लेकर नीतीश कुमार आज 3 नवंबर यानी शनिवार को पटना के विभिन्न गंगा घाटों का निरीक्षण किया. वे सुबह पटना सिटी स्थित नासरीगंज पहुंचे और वहां से वे स्टीमर पर सवार होकर गंगा घाटों के निरीक्षण के लिए निकल पड़े. इसके बाद उन्होंने पटना सिटी तक के सभी घाटों का मुआयना किया. उनके साथ चल रहे संबंधित अफसरों को दिशा-निर्देश देते रहे. सीएम नीतीश कुमार के साथ पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव और ऊर्जा मंत्री विजेंद्र प्रसाद यादव भी रहे.

निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घाटों के पहुंच पथ को देखा और पहुंच पथ पर कई जगहों पर बैरिकेडिंग की आवश्यकता बतायी. उन्होंने साथ चल रहे पटना डीएम कुमार रवि को स्पष्ट निर्देश दिया कि बैरिकेडिंग का काम दीपावली के पहले पूरा कराने के लिए कहा है. वहीं डीएम ने सभी सेक्टर पदाधिकारियों को बैरिकेडिंग की जिम्मेवारी सौंपी है. गंगा नदी में बैरिकेडिंग के समय जलस्तर की मापी करने और बल्ले से मजबूत और सुरक्षित बैरिकेडिंग पर गंभीरता से ध्यान देने को कहा है. अफसरों व सेक्टर पदाधिकारियों से साफ कहा कि कार्यों में किसी तरह की लापरवाही नहीं हो.

मुख्यमंत्री ने स्टीमर पर पहुंचते ही गंगा घाट के नजरी मानचित्र का अवलोकन किया. लगभग दो घंटे तक नासरीगंज से गायघाट के बीच अवस्थित सभी छठ घाटों का मुख्यमंत्री ने बारीकी से देखा. उन्होंने गंगा घाटों के निरीक्षण के क्रम में घाटों की स्थिति पर संतोष व्यक्त किया. कुर्जी एवं एलसीटी घाट के निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी इसमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है.

पटना में शनिवार को गंगा घाट के निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व अन्य.

उन्होंने कहा कि इसमें अभी और जेसीबी लगाना होगा और तीव्र गति से कार्य कराना जरूरी है. उन्होंने कहा कि कुर्जी घाट के आगे कटाव ज्यादा हो रहा है, ऐसा कटाव पिछले वर्ष नहीं था. उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को कटाव पर नजर रखने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही उन्होंने घाटों पर गार्ड रूम बनाने को भी कहा है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ऊर्जा मंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव व पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चन्द्र यादव, मेयर सीता साहू, मुख्य सचिव दीपक कुमार, प्रधान सचिव जल संसाधन त्रिपुरारी शरण, प्रधान सचिव गृह आमिर सुबहानी, प्रधान सचिव पथ निर्माण अमृत लाल मीणा, प्रधान सचिव ऊर्जा प्रत्यय अमृत, प्रधान सचिव नगर विकास विभाग चैतन्य प्रसाद, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण जितेन्द्र श्रीवास्तव, अपर पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल, अपर पुलिस महानिदेशक जेएस गंगवार, प्रमण्डलीय आयुक्त पटना आरएन चोंग्थू, आईजी पटना नैयर हसनैन खान, डीआईजी राजेश कुमार, डीएम कुमार रवि, एसएसपी मनु महाराज समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे.

व्यूरो रिपोर्ट

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here