Visitors have accessed this post 46 times.

TV30 रिपोर्ट- इलियास खान (फतेहपुर)

करीब दस महीने पहले शादी करके फतेहपुर की खागा कोतवाली के बुदवन गांव आई एक विवाहिता की चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी गई। हत्या के बाद उसकी लाश को घर से कुछ दूर जंगल में फेंक दी गई। परिजनों की सूचना पर पुलिस मौके पर आई तो पता चला कि वह सुबह चार बजे जंगल के लिए निकली थी लेकिन लौटी नहीं। पुलिस ने पिता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया है।

खागा कस्बे के बैरागी का पुरवा निवासी रामनरेश की 22 वर्षीय पुत्री सविता की शादी 20 फरवरी को बुदवन गांव के श्यामबाबू के साथ हुई थी। मौजूदा समय वह गर्भवती भी थी। बृहस्पतिवार की सुबह मझिल गांव चौकी पुलिस को सविता के घरवालों ने खबर दी कि उसकी हत्या कर दी गई है और लाश जंगल में पड़ी है। यह सुनकर चौकी प्रभारी मौके पर आ गए। शव पर कातिल ने चाकुओं से कई प्रहार किए गए थे और उसके गले में भी निशान मिले। परिजनों ने बताया कि सविता करीब चार बजे सुबह लोटा लेकर जंगल के लिए निकली थी। शव के पास ही उसका लोटा और चप्पल मिली। पुलिस  ने शव को कब्जे में लिया। सविता के पिता भी कुछ देर में वहां पहुंचे और अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या की तहरीर दी। पुलिस ने जांच की तो मौके पर खून की एक बूंद नहीं मिली, ऐसे में यह माना गया कि कातिल ने हत्या किसी और जगह पर की और शव को यहां पर लाकर फेंक दिया है।  

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here