Visitors have accessed this post 120 times.

पद्मावत के दर्शकों में अब आलिया भट्ट भी शामिल हो गई हैं. उन्होंने इस फिल्म की तारीफ के पुल बांध दिए. वे सबसे ज्यादा जिस किरदार से प्रभावित हुईं, वह है अलाउद्दीन खिलजी का. इसे रणवीर सिंह ने निभाया है. आलिया ने रणवीर की अदाकारी की जमकर तारीफ की.

फिल्म देखने के बाद आलिया ने एक के बाद एक ट्वीट किए. उन्होंने लिखा, रणवीर आप शानदार हो, आपने ये कैसे किया? एपिक, एपिक, एपिक. पद्मावत जादुई है. उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा है, ये वाकई परफेक्ट है, जिस दुनिया से आपने रूबरू कराया है. मैं अगले प्रोजेक्ट का इंतजार नहीं कर सकती. इस अनुभव के लिए शुक्रिया. मेरे डियर फ्रेंड शाहिद कपूर आप कैसे हर किरदार को मैनेज करते हो. आपने मुझे कई सुनहरे पल दिए.’ अगले ट्वीट में आलिया ने दीपिका की तारीफ की. , उन्होंने लिखा, डीपी कोई भी इंसान इतना खूबसूरत कैसे दिख सकता है. लेकिन उससे भी ज्यादा खूबसूरत है तुम्हारी हिम्मत, तुम्हारी आंखें और वो सब कुछ जो तुमने इस फिल्म में किया है.

 

पद्मावत’ तमाम विरोध और प्रदर्शन के बाद आज देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज हुई. हिंदी, तमिल और तेलुगु भाषा के साथ ये फिल्म 6 से 7 हजार स्क्रीन्स पर रिलीज की जा रही है. फिल्म का विरोध कर रही करणी सेना ने आज देशव्यापी बंद का ऐलान किया है. विरोध के चलते गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश और गोवा में सिनेमाघर मालिकों ने फिल्म नहीं दिखाने का फैसला किया है. बिहार में पटना को छोड़कर राज्य के बाकी हिस्सों में फिल्म रिलीज हुई. करणी सेना और राजपूत संगठनों से जुड़े लोगों का रिलीज के दिन भी प्रदर्शन जारी है.

हरियाणा में बुधवार को हिंसा नहीं

हरियाणा में 8 लोगों को एहतियातन गिरफ्तार किया गया है. हरियाणा पुलिस के डीजीपी वीएस संधू ने कहा, गुरुवार को राज्य के किसी भी सिनेमाघर में हिंसा नहीं हुई है. गुडगांव की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. हरियाणा के 9 जिलों में शांति से फिल्म की स्क्रीनिंग हो रही है. पर्याप्त सुरक्षा के इंतजाम हैं.

क्या गृह मंत्रालय ने झाड़ा पल्ला

केंद्रीय गृह मंत्रालय पद्मावत विवाद और हिंसा पर सीधे दखल नहीं देगा. मत्रालय सूत्रों ने कहा, कानून व्यवस्था, राज्य सरकार की ज़िम्मेदारी है. किसी भी राज्य ने गृह मंत्रालय से केंद्रीय सुरक्षा बल नहीं मांगी. कहा, राज्यों में कुछ जगह रैपिड एक्शन फोर्स के सेंटर हैं. राज्य सरकारें अपनी जरूरत के हिसाब से हालात से निपटने के लिए इनका इस्तेमाल कर सकती हैं. गुजरात और मध्यप्रदेश में RAF का इस्तेमाल किया भी जा रहा है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here