Visitors have accessed this post 59 times.

बेलदौर -कोसी एवं बागमति पर नवनिर्मित सेतु 963  मीटर लंबी एवं 23 फीट चौडी चोडी वीपी मंडल सेतु का फरवरी 1991 मे उदघाटन तत्कालीन सीएम लालु प्रसाद यादव ने  कर कोसीवासियो को बडी सौगात थी ।करीब 20 बर्षो तक कोसी की इस लाईफलाईन ने ईलाके को आवागमन की सुविधा देकर कोसी एवं बागमति के प्रहार से दम तोड दी ।इसके बाद ईलाके के लोगो ने करीब साढे आठ वर्षो तक आवागमन संकट का दंश झेलकर जब पस्त हो गयी ,तो 27 दिसंबर 2018 को सीएम नितिश कुमार जीर्णोद्धार के बाद पुनर्स्थापित डुमरी पुल का उदघाटन कर लोगो को बडी राहत देंगे ।
तत्कालीन सीएम ने डुमरी पुल के उत्तरी छोर (उसराहा चौक) स्थित एन एच 107 समीप सभास्थल पहुंच पुल का उदघाटन किया था ,जबकि पुनर्स्थापित डुमरी पुल का उदघाटन सीएम नितिश कुमार  पुल के दक्षिणी छोर स्थित सोनवर्षा घाट स्थित सभास्थल से उदघाटन करेंगे ।कोसी बागमति के संगम पर निर्मित पुल का उदघाटन दो सीएम द्वारा एक संयोग है , पूर्व CM  लालू प्रसाद यादव के द्वारा उदघाटन के दौरान लगाया गया सिलापट को असमाजिक तत्व कहिए या प्रशासन के लापरवाही के कारण तोड़कर फेंक दिया गया था जिसके बिरोध में बिते मंगलवार को राजद कार्यकर्ताओं ने डुमरी पुल पहुंचकर बिरोध प्रदर्शन किया एवं अविलंब शिलापट्ट नही लगाये जाने पर सीएम कार्यक्रम मे बिरोध जताने की चेतावनी दी थी बिरोध जताने कि चेतावनी को ध्यान रखते हुए पदाधिकारी ने  आनन फानन मे तत्कालीन सीएम के शिलापट्ट निर्धारित स्थल पर रातोरात लगाकर विभागीय अधिकारियो ने विवाद पर विराम लगा दिया ।बुद्धवार को उक्त शिलापट्ट लोगो के बीच आकर्षण एवं चर्चा का केन्द्र बना रहा
INPUT – SamSher Bahadur

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here