Visitors have accessed this post 29 times.

मुरसान क्षेत्र के गांव गदाई में दो पक्षों के बीच हुई मारपीट का मामला थमन का नाम नहीं ले रहा है। गांव में शांति व्यवस्था बनाने के लिए आज एक पंचायत हुई। एसडीएम सीओ और अन्य पुलिस फोर्स मौजूद रहे। जिसमें सैकड़ों की संख्या में क्षेत्र के लोग मौजूद थे। कस्बा मुरसान के गांव गदाई में सोमवार को कावड़ चढ़ाने को लेकर दो पक्षों में आपसी कहासुनी हो गई थी। कहीं एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर कावर न चढ़ा देने का आरोपी लगाया था। जिसको लेकर सोमवार देर शाम को दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। और एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर जाति सूचक शब्द बोलने का आरोपी लगाया। मामला चौधरी समाज और दिवाकर समाज के बीच था। मारपीट के दौरान करीब दर्जनों की संख्या में लोग और महिलाएं कोतवाली मुरसान पहुंच गए थे। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ एससी एक्ट और मारपीट के मामले मे मुकदमा दर्ज कर लिया था। वही दिवाकर समाज के लोगों ने अपने मकान पर घर बिकाऊ और गांव से पलायन कर देने की धमकी दी थी। पुलिस को जब पलायन करने की धमकी की जानकारी हुई तो मुरसान पुलिस वासियों सादाबाद मुरसान के गांव बधाई पहुंच गए।और लोगों को समझाया। दिवाकर समाज ने आरोप लगाया था कि दबंग चौधरी समाज के लोगों के द्वारा घर से निकलना मुश्किल कर दिया है और खेतों पर काम करने की जाते समय महिला और युवकों से गाली गलौज मारपीट करते हैं। मजबूरी के चलते उन्होंने अपने घरो को बेचने का फैसला कर लिया था। आज वही दोनों पक्षों के लोगों सहित सैकड़ों की संख्या में क्षेत्र के लोगों की मौजूदगी में गदाई चौराहे पर स्थित बगीची में एक पंचायत रखी गई। पंचायत में आज सैकड़ो की संख्या में क्षेत्र के और गांव के लोग मौजूद थे। सीओ सादाबाद गोपाल कुमार, एसडीएम सदर रवेद्र कुमार, थाना अध्यक्ष योगेश कुमार सहित अन्य पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। करीब 1 घंटे चली पंचायत में को सादाबाद और एसडीएम द्वारा लोगों को समझाया गया और गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। सीओ गोपाल कुमार ने बताया गांव में माहौल बिगड़ता वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। और सभी लोग भाई सारे के साथ मिलकर रहें। फ़िलहाल दिवाकर समाज के लोगों ने मकान के बाहर लिखें मकान बिकाऊ को कुछ लोगो के मकान से मिटा दिया गया है। गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए गांव में पुलिस फोर्स तैनात है। और वही दिवाकर समाज के लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। वहीं पंचायत में शामिल के के दीक्षित, प्रधान कन्हैयालाल, अमर सिंह, अमर सिंह, जितेंद्र सिंह, देवलाल, पिंटू, सीटू, राजवीर सिंह, बदन सिंह, मुख्तार सिंह, शाहिद सैकड़ो की संख्या में लोगों की भीड़ मौजूद थी।

INPUT – वीरेंद्र शर्मा

यह भी देखें :-