Visitors have accessed this post 141 times.

हाथरस। विश्व एवं राष्ट्रीय स्तर पर चल रहा है कोरोना का खतरा और उसके व्यापक उपचार की व्यवस्था भी की जा रही है। लेकिन स्थानीय स्तर पर स्वास्थ्य विभाग नहीं मान रहा है इसको खतरा।

आज एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक हृयूमन राइट्स का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल बागला जिला संयुक्त चिकित्सालय में कोरोना जैसी गंभीर बीमारी के खतरे से निबटने के लिए उपायों की जानकारी लेने के लिए गया।
इस संबंध में सीएमओ डॉ बृजेश राठौर एवं सीएमएस डॉ आईवी सिंह से ज्ञापन के माध्यम से की मुलाकात जिसमें दोनों प्रमुख स्वास्थ्य अधिकारियों ने कोरोना को लेकर नहीं माना है खतरा उनका कहना है कि हमारे यहां ऐसी स्थिति नहीं है। यह स्थिति विदेश से घूम कर आने वाले लोगों द्वारा या उनसे मिलने वाले लोगों के द्वारा ही संभव है। जब उनसे मांग की गई कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों स्टाफ को मास्क दिए जाएं। एवं सैनिटाइजर से उनके हाथ धोने के लिए व्यवस्था की जाए तो उन्होंने कहा कि अभी ऐसी कोई जरूरत नहीं है। मास्क केवल उन्हीं को दिए जाएंगे जब कोई कोरोना का मरीज भर्ती होगा उसके इलाज के लिए डॉक्टर और नर्स उसको देखने और उसके इलाज करने जाएंगे तभी मास्क की जरूरत होती है अभी कोई मास्क की जरूरत नहीं है और ना ही सैनिटाइजर से हाथ धोने कि हम लोग स्वयं साबुन से हाथ धो रहे हैं।


जबकि इसके विपरीत जिला प्रशासन और नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा जगह-जगह सैनिटाइजर से हाथ धोने के लिए लोगों को प्रेरित कर और मास्क वितरित कर पहनने के लिए। जागरूक किया जा रहा है।
जब उनसे कहा गया कि। देश के प्रधानमंत्री और राज्य की सरकारें 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के माध्यम से पब्लिक को अपने घरों में रहने का सुझाव दे रही है फिर ऐसा क्यों तब उन्होंने कहा कि हम इस संबंध में कुछ नहीं कह सकते लेकिन हमारे यहां तक जनपद में ऐसा कोई भी खतरा नहीं है।
हाथरस जनपद का स्वास्थ्य महकमा कब जागेगा पता नहीं चल रहा है कि यहां का स्वास्थ्य विभाग इतनी गहरी नींद में क्यों सोया हुआ है पूरे भारतवर्ष में कोरोना के बचाव के लिए तरह तरह के उपाय किए जा रहे हैं और भारत इस कोरोना जैसी भयंकर बीमारी से लड़ने के लिए तैयार हो रहा है। लेकिन अपने हाथरस का स्वास्थ्य महकमा क्यों तैयार नहीं है यह समझ से परे है।
आज के प्रतिनिधिमंडल में राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय के साथ जिला महासचिव शैलेंद्र सांवलिया, सुरेंद्र शर्मा उर्फ कबाड़ी बाबा, उपदेश कौशिक आदि साथ रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here