Visitors have accessed this post 337 times.

 

हाथरस : कोरोना वायरस के कराण देशभर में लगे लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश के संभल में सपा नेता और उनके बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी गई। संभल के बहजोई थाना इलाके में हुए इस डबल मर्डर से हड़कंप मच गया। हत्या के पीछे मनरेगा के तहत बनाई जा रही सड़क का विरोध बताया जा रहा है। गांव के ही कुछ दबंग इस सड़क का विरोध कर रहे थे। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय महासचिव रामजीलाल सुमन ने कहा कि छोटेलाल दिवाकर हमारी पार्टी के नेता थे वह 2017 में समाजवादी पार्टी के विधानसभा प्रत्याशी रहे हैं छोटेलाल दिवाकर व उनके पुत्र की निर्मल हत्या की गई है प्रदेश के लिए चिंता का विषय है लॉक डाउन में अपराधी प्रकृति के लोगों का हौसला और बुलंद है मैं एक राजनीतिक कार्यकर्ता होने के नाते मैं ऐसा मानता हूं कि सरकार का जो चरित्र होता है वह बहुत कुछ समाज का क्रियाकलाप उसी से निर्मल होता है कि एक जातिवादी एक जाति विशेष मानसिकता से उत्तर प्रदेश की सरकार में उसके एजेंडे में ना दलित है ना कमजोर है दलित समाज के छोटे लाल दिवाकर उनकी बेटी की जो हत्या की वीडियो वायरल हुआ है उससे साफ संदेश जाता है गुनाह करने वालों के ऊपर कानून का कोई मानो मनोवैज्ञानिक प्रभाव नहीं है यह निश्चित रूप से प्रदेश में जंगलराज है प्रदेश की सरकार दलित विरोधी है कमजोर विरोधी है हम इस घटना की घोर निंदा करते हैं हम चाहते हैं कि हत्यारों पर कठोर से कठोर कार्रवाई हो जिससे संदेश जाए कि दलितों पर कोई अत्याचार ना हो पाए ।

इनपुट : टेकपाल कुशवाहा

यह भी देखे : ऑक्सीजन की कमी महसूस होने पर,अपनाएं यह कुछ टिप्स

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

sasni new wave