Visitors have accessed this post 178 times.

सिकंदराराऊ :  लॉक डाउन के चलते शुक्रवार को शनि अमावस्या का पर्व श्रद्धापूवर्क घरों में ही मनाया । शनि भक्तों ने कलयुग के न्यायाधीश भगवान शनि देव की विधि विधान द्वारा पूजा अर्चना की । भगवान शनि देव को प्रसन्न करने के लिए भक्तों द्वारा उपवास रखकर मनोती मांगी गई। लॉक डाउन के चलते सामूहिक रूप से पूजा अर्चना करने की अनुमति प्रदान नही की गई है। वैसे तो शनि अमावस्या पूरे साल में अधिक से अधिक 2 ,3 बार आती है । इस अमावस्या के चलते ज्योतिष भी बड़े कार्य करते है। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार जेष्ठ माह की अमावस्या तिथि को भगवान शनिदेव का जन्मोत्सव मनाया जाता है। भगवान शनि देव सूर्य देव के पुत्र हैं और वह शनि ग्रह के स्वामी भी हैं । जिसके चलते जेष्ठ माह की अमावस्या के दिन शनिदेव की पूजा अर्चना करने का विशेष महत्व है । शनिदेव की पूजा अर्चना करने से भक्तों की समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं । भगवान शनिदेव की अनुकंपा से भक्त सदैव खुशहाल रहते हैं। शनि अमावस्या के पर्व पर भक्तों ने भगवान शनिदेव की पूजा अर्चना करने के बाद दान भी दिए।

INPUT – अनूप शर्मा