Visitors have accessed this post 174 times.

थर्मल स्क्रीनिंग में तीनों को तेज बुखार से पीड़ित पाने के बाद पुलिस ने एंबुलेंस को बुला लिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम तीनो को अपने साथ ले गयी।

आइएसबीटी से प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक भेजने के लिए बसें लगी हुई हैं। जो रोज कई सौ मजदूरों को लेकर जा रही हैं। सोमवार की दोपहर पंजाब से आए तीन मजदूर वाराणसी जाने के लिए आए थे। तीनों को बिहार जाना था। वाराणसी की सीमा से उन्हें बिहार जाने के लिए दूसरी बस पकड़नी थी। पुलिस और रोडवेज का स्टाफ इन मजदूरों को बस में बैठाने के लिए थर्मल स्क्रीनिंग कर रहा था।

इसमें तीनों मजदूरों को 102 से 103 बुखार आने पर वहां अफरातफरी मच गयी। प्रवासी मजदूरों के कोरोना संक्रमित होने की आशंका पर वहां माैजूद अन्य कर्मचारी और सवारियां हट गयीं। प्रवासी मजदूरों को बस स्टैड पर ही रोक लिया गया। पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग को टीम को सूचना देकर आइएसबीटी पर बुलाया।

टीम एंबुलेंस से तीनों संदिग्ध प्रवासी मजदूरों को अपने साथ ले गयी। कोरोना टेस्ट कराने को उनका सैंपल लिया जाएगा। इसके साथ ही प्रवासी मजदूराें से उनके साथ आए अन्य लोगों के बारे में भी जानकरी ली गयी। तीनों का कहना था कि वह अकेले ही आए थे। पुलिस उनकी ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में पता कर है |

INPUT – Mahipal singh