Visitors have accessed this post 24 times.

सासनी : भगवान श्रीराम की आज्ञानुसार कलयुग में धर्म की रक्षा करने एवं धर्म के मार्ग पर चलने वाले भक्तों की रक्षा के लिए पृथ्वी पर अदृश्य रूप से निवास करने वाले भगवान श्री हनुमान जी का जन्मोत्सव बडे ही हर्षोल्लास से मनाया गया। श्री हनुमान मंदिरों को दुल्हन की तरह सजाया गया और भगवान श्री हनुमान जी का सिंदूर से चोला श्रंगार किया गया।
मंगलवार को जगह-जगह मंदिरों में हनुमान भक्ति का गुणगान किया। कार्यक्रम के दौरान भक्तों ने आचार्यों द्वारा विधिविधान से वेदमंत्रोच्चारण के साथ हवन यज्ञ में आहुतियां देकर विश्व की शांति के लिए प्रार्थना की। उसके बाद श्री हनुमान जी का सिंदूरी चोले के एंव रेशमी वस्त्रों के साथ श्रृंगार कर, भोग लगाया गया। श्री हनुमान जी की आरती उतार कर भंडारा प्रसाद वितरण किया। गांव रूदायन स्थित पक्का श्री हनुमान मंदिर में श्री रामायण जी पाठ किया गया। भक्तों द्वारा लगाए गये जयकारों से संपूर्ण वातावरण भक्ति मय हो गया। आचार्य खगेन्द्र शास्त्री ने बताया कि बजरंग बली को श्री हनुमान के रूप में भी जाना जाता है। जो भगवान राम को समर्पित थे। अन्य विभिन्न नामों से जाना जाता है जैसे पवनपुत्र और अंजनेया – हनुमान को भगवान राम के सबसे प्रमुख भक्तों में से एक माना जाता था। उनके जन्मदिन को बडे उत्साह के साथ मनाया जाता है।

इनपुट : आविद हुसैन

यह भी देखे : ऑनलाइन मोटर व्हीकल चालान को कैसे पता करें 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

sasni new wave