Visitors have accessed this post 368 times.

सिंगरौधी : मध्यप्रदेश के सिंगरौधी जिले से एक शर्मनाक और झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मजबूर पिता अपनी बेटी के शव को खाट पर रखकर 35 किमी तक पैदल चला। जिससे सरकारों के बेहतर सुविधाएं देने के दावों की पोल खोल दी है। यहां सिस्टम एक पिता को उसकी बेटी की मौत के बाद शव को ले जाने के लिए एक तक एंबुलेंस मुहैया नहीं करा सका। जिससे मजबूर पिता अपनी बेटी के शव को खाट पर रखकर 35 किमी तक पैदल चलने के लिए मजबूर हो गया।

सिंगरौधी के निवास पुलिस चौकी क्षेत्र के गांव गढ़ई में एक 16 वर्षीय किशोरी ने आत्महत्या कर ली। किशोरी के पिता ने घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी। लेकिन सूचना पर पुलिस हरकत में नहीं आई। पुलिस प्रशासन ने किसी भी तरह का कोई सहयोग नहीं किया। मजबूरन लाचार पिता को अपनी बेटी के शव को पोस्टमार्टम कराने ले जाने के लिए खाट पर रखकर पैदल चलना पड़ा। लौटते समय भी शव वाहन मुहैया नहीं कराया गया। जिससे मजबूर पिता पिता इसी तरह शव को खाट पर पर रखकर वापस लाया और अंतिम संस्कार किया। रास्ते में भी किसी ने उनकी मदद नहीं की। लोगों वीडियो बनाते रहे।

इनपुट : मध्यप्रदेश डेस्क

अपने क्षेत्र की ख़बरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA ऐप – http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave