Visitors have accessed this post 62 times.

हाथरस : आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हाथरस जनपद के मथुरा रोड स्थित कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया । ज्ञापन में लिखा था कि उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापकों के कुल 69000 पदों पर भर्ती की अधिसूचना हेतु 1/ 12/ 2018 को विज्ञापन प्रकाशित किया गया था जिसके लिखित परीक्षा 6/01/2019 को संपन्न कराई गई इस भर्ती प्रक्रिया में आरक्षण के नियमों की बड़े पैमाने पर अवहेलना की गई ओबीसी वर्ग को 27 आरक्षण की सके इस भर्ती में मात्र 3.86 आरक्षण मिला है और इसी तरह अनुसूचित जाति वर्ग को इस भर्ती में एक किस आरक्षण की जगह मात्र 16 के लगभग आरक्षण प्राप्त हुआ है । अनारक्षित वर्ग की लगभग 15000 अनारक्षित सीटो को एमआरसी प्रक्रिया द्वारा रोका जा रहा है इस संबंध में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग में संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के सभी 75 जनपदों में बेसिक शिक्षा अधिकारियों एनसीईआरटी कार्यालय प्रयागराज एवं लखनऊ सचिव स्तर के सभी प्रमुख बेसिक शिक्षा अधिकारियों को बुलाकर अंतरिम रिपोर्ट तैयार की जिसमें आरक्षण नियमों के साथ धोधली का खुलासा हुआ अस अंतरिम रिपोर्ट को का कहां अफसोस है कि 1 माह बीत जाने के बाद भी सरकार ने इस अंतरिम रिपोर्ट पर कोई जवाब नहीं दिया। आरक्षण घोटाले से परेशान एवं न्याय ना मिलता देख 55 अभ्यार्थियों ने राज्यपाल से इच्छा मृत्यु की मांग की है यह अत्यंत पीड़ादायक है अतः आपसे निवेदन है कि 16 या 4 शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण नियमों का सही से अनुपालन सुनिश्चित करें एवं आरक्षित वर्ग के छात्रों का भविष्य अधर में ना डालें । इस दौरान ज्ञापन में देने वालो में जिला अध्यक्ष अजयकुमार सागर , प्रकास चन्द्र गौतम , डॉ केके लाल, आदि मौजूद रहे

इनपुट :- व्यूरो रिपोर्ट

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave