Visitors have accessed this post 41 times.

हाथरस : कलेक्ट्रेट सभागार में विकास एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी रमेश रंजन ने विकास एवं निर्माण कार्यों में तेजी लाने हेतु विभागीय अधिकारियों को कडे निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने जनकल्याणकारी योजनाओं, गरीबी उन्मूलन, रोजगारपरक योजनाओं एवं विभागीय कार्यो तथा पेंशन, राशन, आयुष्मान भारत योजना, उद्योग आदि जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित विभागीय अधिकारिओं को पात्र लाभार्थियों को लाभ दिलाने के निर्देश दियें। उन्होने कहा कि जिससे अधिक से अधिक पात्र लाभार्थियों को योजनायों का लाभ प्राप्त हो सकें उन्होने अपर मुख्य चिकित्साधिकारी से दवाईयों की उपलब्धता, एम्बूलेंस, विशेष सर्विलान्स अभियानकी प्रगति, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, वेक्टर जनित रोग, आयुष्मान गोल्डन कार्ड के बनाने आदि के बारे में जानकारी ली। आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाने की प्रगति धीमी होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाने में सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को खुले में घूम रहे निराश्रित आवारा पशुओं को तत्काल पकड़वाने एवं गौशाला में संरक्षित करने के निर्देश दिए। पशुपालन विभाग द्वारा चलायी जा रही सहभागिता योजना तथा टीकाकरण में प्रगति संतोषजनक न होने पर आपेक्षित प्रगति लाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने एक्सीयन पीडब्ल्यूडी को जर्जर एवं खराब सड़कों की लिस्ट तैयार करते हुए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि धनराशि की आवश्यकता हो तो मुख्यालय को पत्र के माध्यम से अवगत कराने के निर्देश दिए। ऑपरेशन कायाकल्प के तहत प्राथमिक विद्यालयों में जिला पंचायत राज विभाग द्वारा कराए जा रहे कार्यो की प्रगति संतोषजनक ना होने पर जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को कायाकल्प के तहत कराए जा रहे कार्यों को चार भागों में विभक्त करते हुए प्रगति रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को पंचायत भवनों के लंबित निर्माण कार्य को तत्काल पूर्ण कराने के निर्देश दिए अमृत योजना के दौरान की गई सड़कों की खुदाई के पश्चात जहां पर भी मरम्मत का कार्य नहीं हुआ है उन सड़कों की मरम्मत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने समस्त विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके यहां विद्युत विभाग से संबंधित जो भी समस्याएं हैं उनकी सूची तैयार करते हुए कल शाम तक मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। विभिन्न विभिन्न द्वारा संचालित योजनाओं एवं निर्माण कार्य की प्रगति का ग्रेड संतोषजनक ना होने पर संबंधित विभागीय अधिकारियों एवं कार्यदयी संस्थाओं को चेतावनी पत्र जारी करने के निर्देश दिए। कार्यदायी संस्थाओं को निर्माण कार्य को गुणवत्ता के आधार पर ससमय पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि ऐसा न करने पर कार्यदायी संस्था के विरूद्व कार्यवाही की जायेगी।
जिलाधिकारी ने इसके अलावा अमृत योजना, समूहिक विवाह योजना, शादी अनुदान योजना, ग्रामीण/शहरी आवास योजना, मनरेगा, पोषण मिशन, ग्रामीण विद्युतीकरण, आदि की स्थिति का जायजा लेकर अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे मानक एवं गुणवत्ता सहित लक्ष्यों को समय से पूरा करने के लिए प्रभावी रणनीति बनाकर अमल में लायें। इसी प्रकार उन्होने एक्सीयन पीडब्ल्यू डी, तथा अन्य सभी विभागो की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान पायी गयी खामियों को दुरूस्त करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर, मुख्य विकास अधिकारी आर0बी0 भास्कर, परियोजना निदेशक अश्वनी कुमार मिश्र, जिला विकास अधिकारी अवधेश सिंह यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी बनवारी सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी शिव कुमार, एक्सीयन पी0डब्ल्यू0डी0, एक्सीयन जल निगम तथा अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave