Visitors have accessed this post 24 times.

सिकंदराराऊ : ब्राह्मणपुरी पुरानी तहसील रोड स्थित शिशु शिक्षा मंदिर पेड़ वाले स्कूल में आजाद हिद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126 वीं जयंती मनाई गई। इस अवसर पर प्रधानाचार्य नरेश चतुर्वेदी, जहीरूद्दीन पीरजादा, हरपाल सिंह यादव व श्रीकृष्ण दीक्षित फौजी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस मौके पर बच्चों को देश भक्ति की शपथ दिलाई गई।
इस अवसर पर प्रधानाचार्य नरेश चतुर्वेदी ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस देश के महानायक थे। उन्होंने अपने कर्तव्य को निभाते हुए देश पर अपनी जान कुर्बान कर दी। वह एकमात्र ऐसे नेता थे जिन्होंने आजाद हिद फौज की स्थापना कर देश को आजाद कराने के लिए और दुनिया से ब्रिटिश साम्राज्य को उखाड़ फेंकने के लिए प्रण लिया। वह देश छोड़ जर्मनी जापान होते हुए सिंगापुर पहुंचे। उन्होंने वहां पर जेल में बंद बंदियों को रिहा करवा कर अपनी एक फौज तैयार कर देश को आजाद कराने के लिए निकल पड़े। उन्होंने जय हिद व दिल्ली चलो का नारा दिया था। उनका नारा तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा से देश के सभी नौजवानों में एक जोश पैदा किया।
इस अवसर पर डॉ राकेश सैंगर, अभिषेक वार्ष्णेय ,शरद शर्मा, विशाल पचौरी, किशन उपाध्याय, लकी शर्मा, उत्कर्षवर्ती पाठक, वंदना वार्ष्णेय, अनम मलिक, निशा शर्मा, निशा नाज, प्रगति गुप्ता, निशा खान आदि मौजूद रहे।

vinay

यह भी देखें :-