Visitors have accessed this post 131 times.

दुनियाभर के तमाम देशों में आज मदर्स डे मनाया जा रहा है। यह दिन हर मां को समर्पित है । हर साल मई माह के दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाते हैं । इस दिन बच्चे अपनी मां को  तोहफे देकर, उनसे प्यार भरी बातें करके ये महसूस कराने की कोशिश करते हैं कि बच्चे के जीवन में मां का स्थान कितना ऊंचा है। रोजाना की जिंदगी में बच्चे मां को उनके प्यार, समर्पण और योगदान के लिए आभार नहीं दे पाते, इसलिए मातृत्व दिवस मौका है मां को नमन करने का और अपने दिल की बात मां को बताने का। इसलिए इस वर्ष के मदर्स डे को मां के लिए सबसे खास और यादगार बनाने के लिए उनसे अपने दिल की बात कुछ कविताय ढ़ंग से कहें। सभी के लिए प्रथम ईश्वर, शिक्षक, दार्शनिक, मार्गदर्शक और मित्र मां होती है। वो ही है जो हाथ पकड़ कर हमें चलना सिखाती है। मां ही हमें बोलना और लिखना सिखाती है। इस निरंतर बदलती दुनिया में एक मां ही है जो स्थिर है। उसकी महानता और उसके कार्यों का वर्णन करने के लिए जितना कुछ लिखा जाए और जितना कुछ कहा जाए सब कम है,मां, प्यार और देखभाल का प्रतीक है। मां के आगे देवता भी नतमस्तक हो जाते हैं। एक बच्चा भले ही अपने दिल की बात न कहे, लेकिन मां की आंखों में देखकर ही पता चल जाता है कि उसके दिल में क्या चल रहा है? यही वह प्यार है जो एक मां अपने साथ रखती है। चाहे वह कितना भी दर्द सहे, और कितने ही लोग उसकी आलोचना करें, फिर भी वह हमेशा अपने बच्चे और परिवार के लिए एक सुरक्षा के कवच के रूप में काम करती है। वह मुश्किल समय में बच्चे के लिए सबसे बड़ा सहारा होती हैं,मेरे लिए मेरी मां ही वो शख्स है जिसने मुझे अपने पैरों पर खड़ा होना सिखाया। मेरी मां ही वह इंसान है जिसने मुझे गलतियों से सीखना सिखाया। वह बिना कोई उम्मीद छोड़े और बदले में कुछ भी पाने की उम्मीद किए बिना मेरी मदद करती है। मैं अपनी मां के लिए हर विलासिता छोड़ सकता हूं क्योंकि अपनी मां के साथ मैं अधिक आराम और शांति महसूस करता हूं। मेरी मां ने मेरी सफलता और खुशी के लिए बहुत कुछ त्याग किया है,इस दुनिया में ऐसा कुछ भी नहीं है जिसकी तुलना एक मां द्वारा दिए गए प्यार और देखभाल से की जा सके। मां का प्यार एक ऐसी चीज़ है जिसे कभी भी किसी और चीज़ से बदला नहीं जा सकता है,मां का प्यार पवित्र और मिलावट रहित होता है। उसका कोई स्वार्थ नहीं है और अपने बच्चों से बिना शर्त प्यार करती है। मां इस दुनिया में किसी भी चमत्कार से कम नहीं है। मां ही वह शख्स है जिससे बच्चे बहुत कुछ सीखते हैं और समाज निर्माण में देश की मदद करते हैं।

INPUT – BUERO REPORT