Visitors have accessed this post 61 times.

सिकंदराराऊ
उत्तर प्रदेशीय सफाई मजदूर संघ शाखा नगर पालिका परिषद सिकंदराराऊ की एक सभा गौरी शंकर इंटर कालेज के प्रांगण में संपन्न हुई। जिसमें समस्त कर्मचारियों की ज्वलंत समस्याओं पर विचार किया गया। जिसमें मुख्य रूप से सबसे ज्वलंत मुद्दा यह है कि नगर पालिका द्वारा एक घिनौना कृत्य करने हेतु लगभग दस पंद्रह वर्षों से आउट सोर्सिंग पर कार्य कर रहे सफाई कर्मियों में से लगभग पंद्रह सफाई कर्मचारियों को आरोप प्रत्यारोप कर सफाई नायकों की उनके खिलाफ आख्या लगवाकर उन आउटसोर्सिंग कर्मियों को हटा कर उनके स्थान पर स्वच्छकार जाति के लोगों से ही एक भारी भरकम राशि लेकर नई नियुक्ति करने का विचार बना रही है। जिससे पालिका को दस पंद्रह वर्षों तक सेवा देने वाले कर्मियों को हटा कर उनका भविष्य खराब करना चाहते हैं। जिसके कारण उनके सामना भरण पोषण की समस्या के साथ साथ उनके बच्चों की पढ़ाई लिखाई के साथ साथ उनकी आर्थिक स्थिति चौपट होगी। जिसके कारण बच्चों को पढ़ाने की जगह उनसे कबाड़ा बिनवाने के अलावा और कोई चारा नहीं रह जाएगा। पालिका द्वारा एक भी आउट सोर्सिंग कर्मी को हटाया गया तो संघ कार्मिक आंदोलन से लेकर आमरण अनशन तक करने को बाध्य होगा। इसके अलावा ओपीएस तथा ओपीएस एवं संविदा कर्मियों का अब तक का भविष्य निधि जो सात माह से लेकर 35 माह तक बकाया है, अविलंब जमा कराया जाये। सेवानिवृत/मृतक आश्रित जिनको तीन माह से लेकर 33माह हो चुके हैं संबंधित लिपिक को अर्जितावकाश बिल मात्र इस लिए नहीं बनाकर लेखा विभाग नहीं भेजा गया क्योंकि उक्त लिपिक को एक निर्धारित राशि जो उसने निर्धारित कर रखी है उसे सेवानिवृत/मृत्तक आश्रितों द्वारा नहीं दिया गया है । जबकि संबंधित लिपिक खुद सितंबर में सेवा निवृत होने वाला है। देखना है कि वह अपना बिल कितनी जल्द बना कर सबमिट करता है। उपरोक्त सभी मुद्दों पर चर्चा की गई । साथ ही आंदोलन हेतु महिला कर्मचारी एवं पुरुष कर्मचारियों की एक संघर्ष कमेटी का भी गठन किया गया। महिला कमेटी में श्रीमती सुमानदेवी, वीमादेवी w/o अमरसिंह, मिथलेश, गुड़िया, देवियानिता, मीना पत्नी नरेंद्र, ललिता पत्नी उमेश, गीता पत्नी जगदीश, साधना पत्नी विकाश, वर्मा पत्नी राधेश्याम, अनिता पत्नी फकीरचंद्र, गीता पत्नी जयप्रकाश एवं पुरुष कमेटी में जगदीश, वीरेंद्र , सनी, देवेंद्र, रतनलाल, गौरव पुत्र राजेंद्र , संजय सिंह, मनोज, संगीत कुमार , अरुण पुत्र राजेंद्र , रमेश, सुरेंद्र आदि हैं।

यह भी देखें :-