Visitors have accessed this post 113 times.

रवि फसलों का सीजन शुरू होने को है फसलों की बुवाई व सिंचाई के लिए भी पानी की किल्लत बनी हुई है।रजवाहों में पानी न आने से किसान रवि की फसलों की बिजाई करने के लिए पलेवा भी नहीं कर पा रहे हैं। विशेषकर सादाबाद क्षेत्र के रजवाहे एक मुद्दत से सूखे पड़े हैं।पानी न मिलने से हजारों हेक्टेयर कृषि भूमि बिना पलेवा के खाली पड़ी है। जिससे किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें उभर आई हैं। मामले को लेकर दर्जनों गांवों के सैकड़ों किसानों ने विधायक सादाबाद प्रदीप चौधरी उर्फ गुड्डू भैया से मिल कर दुखड़ा रोया किसानों ने विधायक को बताया कि पहले से ही ट्यूबवेल फीडर पर पर्याप्त मात्रा में बिजली नहीं मिल रही ऊपर से सिंचाई विभाग भी रजवाहों में पानी नहीं छोड रहा नहीं अभी तक रजवाहों में सफाई कराई गई। किसानों को आ रही समस्याओं को सुनकर विधायक सादाबाद ने तत्काल ही निचली खंड गंगनहर मांट ब्रांच के अधिकारियों से फोन पर वार्ता कर अभी तक रजवाहों में सफाई कार्य शुरू नहीं कराए जाने पर कड़ी नाराजगी जाहिर की साथ ही कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र के किसानों को यदि विभाग की वजह से कोई परेशानी हुई तो वो शांत नहीं बैठेंगे जरूरत पड़ी तो कार्यालय पर ताला जड़ किसानों के साथ भूख हड़ताल पर बैठेंगे मेरे लिए अन्नदाता किसान से बढ़कर कुछ भी नहीं।मामले को लेकर विधायक सादाबाद प्रदीप चौधरी उर्फ गुड्डू भैया ने कहा कि भाजपा सरकार में किसानों की हालत अत्यंत दयनीय हो गई है। उनमें भी क्षेत्र के किसान तो सरकार की अनदेखी से पूरी तरह बर्बाद होने की कगार पर हैं। रजवाहे सूखे पड़े हैं और किसानों को सिंचाई व पलेवा के लिए पानी नहीं मिल रहा है।उन्होंने आरोप लगाया कि मानसूनी सीजन समाप्त हुए एक माह बीत चुका है लेकिन अभी तक रजवाहों की सफाई शुरू नहीं कराई गई है, जबकि रवि फसलों का सीजन शुरू होने को है फसलों की बुवाई के लिए पलेवा व सिंचाईं अतिआवश्यक है उन्होंने बताया कि विधान सभा के दर्जनों ग्राम पंचायतों के सैकड़ों गांवों की खेती की जमीन खारे पानी की समस्या के कारण खराब हो चुकी है उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि अक्टूबर के अंतिम सप्ताह तक रजवाहों की सफाई का कार्य शुरू नहीं हुआ और पानी टेल तक नहीं पहुंचा तो वह कार्यकर्ताओं के साथ निचली मांट ब्रांच खंड के कार्यालय पर ताला जड़ अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे।जिसकी जिम्मेदारी विभागीय अधिकारियों की होगी |

INPUT – RANJEET KUMAR

यह भी देखें :