Visitors have accessed this post 166 times.

सिकंदराराऊ : शनिवार को समाज सेवी मनोज पंडित के आवास पर महर्षि बाल्मीकि जी की जयंती श्रद्धा एवं उल्लास के साथ मनाई गई । इस दौरान लोगों ने महर्षि बाल्मीकि के छवि चित्र पर माल्यार्पण कर नमन किया ।
समाजसेवी मनोज पंडित ने कहा कि महर्षि बाल्मीकि जी द्वारा रचित श्री रामायण ग्रंथ की रचना से सद्मार्ग पर चलने का संदेश दिया गया है । हम सभी को उनके बताए मार्ग पर चलना चाहिए । उन्होंने कहा कि भगवान वाल्मीकि संस्कृत भाषा के पितामह थे । जिन्होंने बुराई पर नेकी की जीत का संदेश अपने महान ग्रंथ श्री रामायण के जरिये दिया । उन्होंने समाज में से भेदभाव को दूर करने के लिए भी प्रेरित किया और सभी को आपस में मिलजुल कर रहने की प्रेरणा दी । उन्होंने कहा कि वाल्मीकि जी के जीवन से प्रेरणा लेकर हमें समाज की भलाई के काम करने चाहिए । सभी महापुरुषों की जयंती पर उन्हें याद करने मात्र से ही समाज के भले के काम नहीं हो जाते बल्कि उनके द्वारा दिखाए गए रास्ते पर पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से चलना होगा । उन्होंने कहा कि संत महापुरुष समाज को नई दिशा व प्रेरणा देने का मार्ग दिखाते हैं । उन्होंने आपसी भाईचारे के साथ सद्भावना व प्यार को मजबूत करने की अपील की , ताकि मजबूत समाज का विकास हो सके ।
इस मौके पर निर्मल दास वाल्मीकि, जगदीश कामली, रोहित वाल्मीकि , निरंजन प्रकाश वाल्मीकि , देवेंद्र कुमार ,दिनेश कुमार , ऋषि पाल, ओमप्रकाश, फारूक अली ,जमीर खान, रोहित माहेश्वरी आदि मौजूद रहे।

INPUT – VINAY CHATURVEDI

यह भी देखें:-