Visitors have accessed this post 77 times.

यूपी में शाहजहांपुर के कटरा क्षेत्र में एक महिला को जिंदा जलाए जाने का मामला सामना आया है। कथित रूप से गुरुवार को एक शख्स ने अपनी पत्नी को इसलिए आग लगा दी, क्योंकि उसको चौथी बार भी बेटी हुई थी। ज्यादा जल जाने की वजह से महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उसने वहीं दम तोड़ दिया। पुलिस ने महिला के पति और उसके परिवारवालों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

केस दर्ज करने के बावजूद भी महिला के घरवालों ने शनिवार को बरेली के प्रेम नगर थाने में शव रखकर विरोध-प्रदर्शन किया और एफआईआर लिखे जाने की मांग की। बताया गया कि क्षमा शर्मा (28) बरेली के भूर क्षेत्र की निवासी थीं और उनकी शादी कपड़े की दुकान चलाने वाले सतीश शर्मा से दिसंबर, 2000 में हुई। उन दोनों को चार बेटियां हुईं।

आग लगा दरवाजा बाहर से बंद किया
क्षमा की छोटी बहन एकता ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘दूसरी बेटी के पैदा होने के बाद से ही क्षमा का पति उन्हें परेशान कर रहा था। गुरुवार को क्षमा अकेली कमरे में सो रही थीं। इसी बीच उनके पति ने अपने भाइयों और मां के साथ मिलकर क्षमा के शरीर पर केरोसीन छिड़क दिया और आग लगा दी। इसके बाद दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। क्षमा की चीखें सुनकर पड़ोसी घर में घुसे और क्षमा को शाहजहांपुर जिला अस्पताल ले गए। बाद में उसे बरेली ट्रांसफर कर दिया गया, लेकिन ज्यादा जल जाने की वजह से शनिवार सुबह उनकी मौत हो गई।’

कटरा पुलिस स्टेशन ऑफिसर धनंजय सिंह ने बताया कि क्षमा के पिता की शिकायत के आधार पर शनिवार को ही एफआईआर दर्ज कर ली गई है, लेकिन क्षमा के परिजनों का आरोप है कि एफआईआर नहीं लिखी गई है।

थाने में ही आरोपी पर टूट पड़े
बाद में क्षमा के परिजनों ने प्रेमनगर थाने के सामने शव रखकर 45 मिनट के लिए चक्काजाम कर दिया। थाने में आरोपी सतीश को पाकर क्षमा के घरवाले उसपर टूट पड़े और मारने-पीटने की भी कोशिश की, लेकिन किसी तरह पुलिस ने उसे बचा लिया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here