Visitors have accessed this post 62 times.

आमतौर पर मसालों में प्रयोग होने वाला लहसुन सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। लहसुन में एलियम नामक ऐंटीबायॉटिक होता है जो बहुत से रोगों के बचाव में कारगर है। रोज सुबह खाली पेट लहसुन का एक टुकड़ा खाने से ब्लडप्रेशर की समस्या में आराम मिलता है। इसके अलावा ऐसिडिटी की समस्या में भी लहसुन काफी फायदेमंद है। कई अध्ययनों से यह बात सामने आई है कि खाली पेट लहसुन लेने से यह प्राकृतिक ऐंटीबायॉटिक की तरह शरीर को फायदा देता है।.

लहसुन में डिटॉक्सिफिकेशन के गुण होते हैं। यह इतना शक्तिशाली होता है कि परजीवी और कीड़े को खत्म कर देता है और डायबीटीज के साथ ही तनाव और अवसाद जैसी बीमारियों में आराम देता है।

लहसुन श्वसन तंत्र के लिए अच्छा होता है। यह टीबी, दमा, निमोनिया, सर्दी, ब्रॉन्काइटिस, पुरानी सर्दी, फेफड़ों में संक्रमण और खांसी की रोकथाम और इलाज के लिए अच्छा होता है।.

दांत के दर्द में लहसुन का सेवन फायदेमंद होता है। अगर कीड़ा लगने से दांत में दर्द हो तो लहसुन के टुकड़े को गर्म कर दांत के नीचे दबा लें। ऐसा करने से दांत के दर्द में आराम मिलेगा।

लहसुन पूरी तरह से ऐंटीबायॉटिक है इसलिए फोड़े होने पर लहसुन को पीसकर उसकी पट्टी बांधने से फोड़े कम हो जाते हैं।

– एलर्जी की समस्या से पीड़ित लोगों को लहसुन नहीं खाना चाहिए।

– जिन लोगों को त्वचा संबंधी समस्या या फिर सिर दर्द हो तो उन्हें भी इससे परहेज करना चाहिए।

– HIV/AIDS के लिए दवा लेने वाले रोगियों के लिए लहसुन का सेवन खतरनाक हो सकता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here