Visitors have accessed this post 123 times.

सहपऊ।बाल चित्र समिति भारत द्वारा शुक्रवार को
क्षेत्र के जेके इंटर कॉलेज तामसी में बाल फिल्म अजूबा दिखाई गई। फिल्म में दिखाया गया कि जादू टोना अथवा भगवान के सहारे पढ़ाई या अन्य कामों में सफलता नहीं मिल सकती। उसके लिए खुद मेहनत करनी पड़ती है। परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने हैं तो मन लगाकर पढ़ाई करनी होगी । कॉलेज की प्रधानाचार्या चौधरी रेखा सिंह ने कहा कि फिल्म से विद्यार्थियों को जीवन में मेहनत करने की प्रेरणा मिलती है।
इधर, बाल चित्र समिति द्वारा श्री महावीर स्वामी जैन इंटर कॉलेज में बच्चों को नानी मां बाल फिल्म दिखाई गई। फिल्म के माध्यम से संदेश दिया गया विपत्ति में कभी साहस नहीं खोना चाहिए। नानी मां जब डाकुओं के चंगुल में फंस जाती है तो वह अपनी अक्ल एवं साहस के कारण उनके कब्जे से बाहर निकल आती हैं। दोनों कॉलेज के अध्यापक विद्यार्थियों के साथ फिल्म देखते हुए अपनी बचपन की यादों में खो गए । कॉलेज के उपप्रबंधक नरेन्द्र कुमार ने कहा कि फिल्म से बच्चों को मुसीबत में साहस न खोने एवं अच्छे मौके बर्बाद न करने के लिए सीख मिलती है।

INPUT : Akhilesh kumar

यह भी देखे : हाथरस में इस जगह मिलता है सबसे सस्ता घरेलू सामान

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here