Visitors have accessed this post 89 times.

हाथरस। ब्रज की द्वार देहरी वेसे तो प्रतिभाओं की दात्री रही है, लेकिन जब-जब मार्केटिंग और उससे जुड़ी बातों का जिक्र छिड़ेगा नवीन शब्द और वह भी गर्व से युवाओं में लिया जाएगा। क्योंकि वार्ष्णेय समाज की प्रतिभाओं में सुमार नवीन कुमार वार्ष्णेय ने नाॅबेल हाइजिन प्राइवेट लिमिटेड में ‘‘बेस्ट पहल अवॉर्ड” जीता है। बनारस में आयोजित एक कार्यक्रम में डायपर जगत के जन्मदाता कहे जाने वाले कमल जोहरी ने स्वयं यह पुरस्कार नवीन को सौंपा।
इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम मैं कमल जोहरी सहाब ने कहा कि आज का समय तेजी से दौड रहा है। इस दौड़ में जो समय के साथ-साथ चलता है। वह ही टिक पाता है और इस बात का स्पष्ट उदाहरण नवीन कुमार वार्ष्णेय के रूप में हमारे सामने मौजूद है। उन्होंने बताया कि कंपनी की प्रोग्रेस में अगर कहीं पर भी अंकों का जमावाड़ा हुआ है तो उसमें नवीन जैसे कर्मठ कर्मचारियों और अधिकारियों का विशेष योगदान रहा है। उन्होंने बताया कि 1987 में स्नेगी गोदरेज का ब्रांड रहा है, लेकिन उच्च क्वालिटी प्राॅड्क्ट और लोगों में लगातार विश्वास पर खरे उरतने के कारण आज अपने स्वच्छ रूप में स्थापित है।
इस मौके पर अपने इस सम्मान से सम्मोहित होते हुए नवीन कुमार वार्ष्णेय ने भावविभोर होकर कहा कि आज जो सफलता मुझे प्राप्त हुई है। उसमें वास्तव में रामकृपाल शर्मा व टीडी सिंह सर का विशेष योगदान रहा है। क्योंकि मेरी सफलता में जो कुछ है उसमें मुझे अपने इन सीनियर्स से बहुत से गुरुमंत्र सीखने को मिले और उसके परिणाम में यह सफलता मौजूद है।।
इस मौके पर खास तौर पर आशुतोष दुबे, दिलीप सिंह, विनय शर्मा, वीरेंद्र शाह, अरविंद कुमार, मोहित गुप्ता, रामसरन मोहित, कल्यान त्रिपाठी आदि मौजूद थे।

INPUT – Adil khan

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here