Visitors have accessed this post 59 times.

पूरी खबर के लिए क्लिक करें

हिस्ट्रीसीटरों के गांव बाग बधिक में पहुंचे पुलिस और प्रशासन के अफसर, ग्रामीणों से बुरे कामों को छोड़कर मेहनत मजदूरी कर जीवन यापन करने का किया आह्वान, क्षेत्र एवं जिले के सबसे अधिक हिस्ट्रीशीटरों के बदनाम गांव बाग बधिक में प्रशासन एवं पुलिस ने एसडीएम राजेश कुमार की अध्यक्षता में संयुक्त रूप से बैठक की। अफसरों ने यहां के वाशिन्दों को नेक काम करने के लिए प्रेरित किया।

एसडीएम राजेश कुमार ने लोगों को बुरे काम छोड़कर अच्छे काम करने एवं मेहनत से जीवन यापन करने को कहा। बता दें कि उक्त गांव पहले से ही हिस्ट्रीशीटरों के लिए जाना जाता है। इस गांव के लोग चोरी डकैती एवं उठाईगिरी का काम करते हैं। आजकल यहां के लोगों ने लॉक डाउन में देशी एवं अंग्रेजी शराब के ठेके बंद होने के बाद कच्ची शराब बनाना शुरू कर दिया है। शाम होते ही इस गांव के छोटे-छोटे बच्चे बोतलों में कच्ची शराब लेकर बेचना प्रारंभ करते हैं। पुलिस एवं आबकारी विभाग ने मिलकर इस गांव में दो बार छापा भी मारा लेकिन उनको आशा अनरूप सफलता प्राप्त नही हुई। यही वजह है कि प्रशासन एवं पुलिस ने इस गांव में बैठक कर लोगों को बुरे कामों को छोड़कर अच्छे काम करने की अपील की है। इसके साथ ही कोरोना महामारी में चल रहे लॉक डाउन में एक दूसरे से सामाजिक दूरी बनाये रखने एवं गांव में बाहर से आने वाले व्यक्तियों के बारे में प्रशासन को सूचना देने के लिए भी लॉगऑन से आह्वान किया गया है। कोतवाल राजवीर सिंह ने कहा कि लोग पुलिस एवं प्रशासन की मदद करें। पुलिस एवं प्रशासन भी उनकी मदद करेगा। गांव में रहने वाले भले लोगों को पुलिस परेशान नही करेगी, लेकिन वह कच्ची शराब बनाने का काम बंद कर दें।
इस मौके पर आबकारी निरीक्षक संजय चंद्रा व दरोगा रवेन्द्र सिंह यादव आदि मौजूद थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here